बेसन की पकौड़ी खाकर आप वजन घटा सकते हैं, पढ़िए बेसन के फायदे…

Views : 3718  |  0 minutes read

चना साबुत हो या उसकी दाल या उससे बना बेसन हर प्रकार से हमारी सेहत के लिए फायदेमंद है। बेसन का उपयोग सब्जी और मिठाई बनाने में किया जाता है। इसमें प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं और इससे हमें कम कैलोरी मिलती है। यह शरीर में मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है, जिससे अधिक फैट बर्न होती है। जिनका वजन ज्यादा है वे लोग बेसन से बनी चीजों का उपयोग कर सकते हैं। इससे कढ़ी, पकौड़ी, चीला, नमकीन, पराठे, रोटियां, सब्जी, मिठाइयां आदि डिशेज आप बेसन से बना सकते हैं।

वजन घटाने वाले पोषक तत्व मौजूद

Besan

बेसन में विटामिन बी-1, बी-2 और बी-9 प्रचुर मात्रा पाई जाती है। जिनकी वजह से बेसन के इस्तेमाल करके शरीर का वजन घटाया जा सकता है। इनके अलावा इसमें प्रोटीन, आयरन, फाइबर आदि भी मौजूद होते हैं जो सेहत के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। बेसन में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है और यह वेजिटेरियन के लिए बेहद फायदेमंद है। 100 ग्राम बेसन में 20 ग्राम प्रोटीन होता है। बेसन के उपयोग से कई प्रकार की स्वादिष्ट डिशेज बनाई जाती हैं। यह भारत के हर रसोईघर में मौजूद रहता है।

तो आइए जानते हैं बेसन से मोटापे को कैसे नियंत्रित कर सकते हैं-

कम कैलोरीज पाई जाती है बेसन में

बेसन में गेहूं के आटे की अपेक्षा कम मात्रा में कैलोरीज होती है और शरीर को कम मात्रा में कैलोरी मिलती है। यह भूख को जल्द शांत करने में सहायक है। इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होते हैं। जिसके सेवन से शरीर का मेटाबॉलिज्म अच्छा हो जाता है। यह शरीर में ज्यादा फैट बर्न करने में मदद करता है और वजन जल्द घटाने में सहायक है। बेसन एक लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Low Glycemic Index) वाला फूड है।

read more- साबुत अनाज खाने से छूमंतर हो जाएंगी ये खतरनाक बीमारिया…

वहीं इसमें प्रोटीन तो प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जबकि कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा बहुत कम होती है। 100 ग्राम बेसन में मात्र 387 कैलोरीज और 7 ग्राम वसा होती है। इसमें 58 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 11 ग्राम डाइट्री फाइबर होता है। जिसके कारण भूख कम लगती है। इसके अलावा इतने ही बेसन में 64 मिलीग्राम सोडियम, 22 ग्राम प्रोटीन, 846 मिलीग्राम पोटैशियम, कैल्शियम, आयरन, विटामिन बी-6, मैग्नीशियम आदि पाए जाते हैं। यही कारण है कि बेसन वजन घटाने में फायदेमंद है।

ऐसे बनाए बेसन से लो-कैलोरी डिशेज

इसके उपयोग से कई प्रकार की स्वादिष्ट डिशेज बनाई जा सकती हैं। आप रोज अपने भोजन या नाश्ते में इनका उपयोग कर सकते हैं जो आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती हैं।

besan-ka-chila

बेसन का चीला जो आसानी से बनाया जा सकता है। इसे बनाने में कम ऑयल का इस्तेमाल होता है, जिसके कारण ये एक स्वादिष्ट लो-कैलोरी लंच, डिनर या ब्रेकफास्ट हो सकता है। वहीं गुजरात की प्रसिद्ध डिश ढोकला भी बेसन से बनाता है। इसके एक पीस में 45-50 कैलोरीज होती हैं। ढोकला को आप सुबह के ब्रेकफास्ट में या शाम के स्नैक्स में खा सकते हैं। इससे बनी रोटियां, बेसन गट्टे की सब्जी, कढ़ी, बेसन का हलवा, मिठाई आदि के माध्यम से बेसन का उपयोग करके वजन को नियंत्रित किया जा सकता है।

वहीं हम चने का उपयोग भीगोकर और अंकुरित करके खाएं। इसमें फाइबर की मात्रा अच्छी होती है। इसलिए यह जल्द पेट भर देता है और वजन घटाने में भी मददगार है।

COMMENT