अपने लिए खुद लें निर्णय और चुनौतियों के लिए रहें तैयार

जब आप घर परिवार के बीच होते हैं तो अक्सर आप अपने निर्णय खुद नहीं लेते हैं। यानी आप हमेशा अपने लोगों की राय पर निर्भर होते हैं। ऐसे में कई बार आप करना कुछ चाहते हैं लेकिन बाकी सबके विचारों के आगे अपने निर्णय को दरकिनार कर देते हैं। यह कई बार सही भी होता है लेकिन एक व्यक्तित्व के तौर पर यह आपको नुकसान भी पहुंचाता…

0 Shares
खुद को एक दुनिया में मत बांधिए, बहुत कुछ है बाहर

परिवार, घर, कॅरियर, बच्चे, दोस्त अमूमन हमारी दुनिया इन्हीं के इर्द-गिर्द घूमती रहती है। धीरे-धीरे हमारी सोच भी बस इन्हीं सब के आस-पास सीमित हो जाती है। लेकिन इससे लम्बे समय में…

0 Shares
खुशियों को अपने घर का पता बताया या नहीं?

जब आपके घर कोई मेहमान आने वाला होता है तो आप सबसे पहले उसे अपने घर का पता बताते हैं ताकि वे आपके घर आसानी से पहुंच जाए। यदि आप उसे पता…

0 Shares
क्या आप भी अव्यवस्थि​त जिंदगी जीते हैं

आज नहीं हो पाया कोई बात नहीं कल कर लूंगा, दस मिनिट ही तो लेट हुए हैं, आज मन नहीं तो नहीं किया इसमें क्या बड़ी बात हो गई…। क्या आप भी…

0 Shares
क्या आप भी पेशेंस को साइड में रख देते हैं?

छोटी सी बात पर नाराज हो जाना और फिर बाद में पछताना कि बेवजह इतना परेशान हुए जबकि इसकी जरूरत ही नहीं थी। ऐसा आपके साथ भी अक्सर होता होगा। क्या कभी…

0 Shares
सालों बाद टूटते रिश्ते, आखिर कमी कहां रह गई

पिछले कई समय में आपने यह खबरें पढ़ी होंगी कि फलां कपल शादी के कई सालों बाद अलग हो गया। सेलेब्रिटीज को लेकर यह खबरें तो कई बार सुनी होंगी। शादी के…

0 Shares
अपने लिए जीना भी कला है, हर किसी को नहीं आती

समय के साथ जब जिम्मेदारियां बढ़ जाती हैं तो आप अपनी एक छोटी-सी दुनिया में बंध जाते हैं। आप घड़ी की सुईयों की तरह चलने लग जाते हैं। हर मिनट का हिसाब…

0 Shares
आज खुद से एक वादा कर लो कि कोई वादा नहीं करोगे

याद करो जब पिछले साल तुमने नए साल से पहले कोई वादा किया होगा हां वही जिसे तुम रिजॉल्यूशन बोलकर इस शब्द की हर बार तौहीन कर देते हो। क्या पिछली बार…

0 Shares
मिसअंडरस्टैडिंग : बात करेंगे तो ही बात बनेगी

‘कम्युनिकेशन गैप’ यह शब्द आपने कई बार सुना होगा। क्या आपने कभी इसे महसूस किया, यदि जवाब ‘हां’ है तो आप जानते होंगे कि इससे कितनी समस्या होती है और यदि जवाब…

0 Shares
हम से ज्यादा भी हैं लोग परेशान, तो छोटी छोटी बातों पर इतना उदास क्यों होना

‘मेरे चार लड़के थे, चारों की अच्छे से शादी की, अब सुकून की जिंदगी जीने का सोच रहा था कि अचानक दो लड़कों की एक हादसे में मृत्यु हो गई, दुनिया उजड़-सी…

0 Shares
कहीं ‘ईगो’ खुशियों का दुश्मन तो नहीं बन रहा

आपका मन जानता है कि आपकी गलती है लेकिन आप इसे स्वीकार नहीं करना चाहते, ‘पहले आप’ वाली स्थति हमेशा आपके साथ रहती है क्योंकि आप शुरुआत नहीं करना चाहते, कभी किसी…

0 Shares
क्या कभी किसी का दर्द लिया उधार…

मेरे साथ ये हुआ, मेरे साथ वो हुआ, मुझे कोई समझता नहीं, मेरी भावनाओं की कद्र नहीं, मैं किसी के लिए महत्वपूर्ण नहीं…। अक्सर जब हम परेशान होते हैं तो ये सब…

0 Shares

Chaltapurza.com, एक ऐसा न्यूज़ पोर्टल जो सबसे पहले, सबसे सटीक की भागमभाग के बीच कुछ अलग पढ़ने का चस्का रखने वालों का पूरा खयाल रखता है। हम देश-विदेश से लेकर राजनीतिक हलचल, कारोबार से लेकर हर खेल तो लाइफस्टाइल, सेहत, रिश्ते, रोचक इतिहास, टेक ज्ञान की सभी हटके खबरों पर पैनी नजर रखने की कोशिश करते हैं। इसके साथ ही आपसे जुड़ी हर बात पर हमारी “चलता ओपिनियन” है तो जिंदगी की कशमकश को समझने के लिए ‘लव यू जिंदगी’ भी कुछ अलग है। हमारी टीम का उद्देश्य आप तक अच्छी और सही खबरें पहुंचाना है। सबसे अच्छी बात यह है कि हमारे इस प्रयास को निरंतर आप लोगों का प्यार मिल रहा है…।

Copyright © 2018 Chalta Purza, All rights Reserved.