कौन हैं 15 वर्षीय निर्देश बैसोया जिसने पारी में सभी 10 विकेट लेकर की अनिल कुंबले की बराबरी?

Views : 968  |  0 minutes read
Nirdesh-Baisoya

भारत में यंग टैलेंटेड क्रिकेटर्स की एक नई फौज तैयार हो रही है। करीब पिछले एक दशक से छोटे शहर-कस्बों से भी प्रतिभाशाली क्रिकेटर निकल रहे हैं। युवा टैलेंट का नया उदाहरण बने हैं यूपी के एक शहर के निर्देश बैसोया। उन्होंने महान पूर्व गेंदबाज अनिल कुंबले के पाकिस्तान के ख़िलाफ़ एक पारी में 10 विकेट लेने के कारनामे की बराबरी की है। निर्देश बैसोया ने भारत के अंडर-16 क्रिकेट टूर्नामेंट विजय मर्चेंट ट्रॉफी में मेघालय की ओर से खेलते हुए पारी में सभी 10 विकेट लेकर सनसनी मचा दी है।

Nirdesh-Baisoya

नगालैंड के ख़िलाफ़ निर्देश का ‘परफेक्ट-10’

निर्देश बैसोया ने असम वैली स्कूल ग्राउंड पर बुधवार को नगालैंड के ख़िलाफ़ अंडर-16 क्रिकेट टूर्नामेंट मैच में यह ख़ास उपलब्धि हासिल की। मैच के पहले दिन बल्लेबाजी करने उतरी नगालैंड की टीम निर्देश की घूमती हुई गेंदों को समझ नहीं पाईं। नगालैंड के एक के बाद एक सभी 10 बल्लेबाज निर्देश का शिकार बने। उन्होंने पारी में 21 ओवर गेंदबाजी की, जिसमें 51 रन देकर सभी 10 विकेट अपने नाम किए। निर्देश बैसोया ने ‘परफेक्ट-10’ का कारनामा करने के साथ ही दस मेडन ओवर भी डाले। उनकी शानदार बॉलिंग के दम पर मेघालय ने नगालैंड को 113 रनों पर ढेर कर दिया।

नगालैंड के जवाब में मेघालय ने अपनी पहली पारी में पहले दिन का खेल खत्म होने तक चार विकेट ​के नुकसान पर 109 रन बना लिए थे। गेंदबाजी में कहर बरपाने वाले निर्देश बैसोया ने बल्लेबाजी में अपना जौहर दिखाया। उन्होंने मेघालय के लिए अच्छी बल्लेबाजी करते हुए 100 गेंदों में 68 रन बनाए।

Nirdesh-Baisoya

मेरठ से ताल्लुक रखते हैं निर्देश बैसोया

उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक साधारण गुर्जर परिवार में जन्मे निर्देश बैसोया अभी मात्र 15 साल के हैं। उन्होंने एनसीआर में ही क्रिकेट की बारीकियां सीखी है। लेकिन अब वे मेघालय से एक गेस्ट बॉलर के रूप में खेलते हैं। नगालैंड के ख़िलाफ़ मैच में जबरदस्त सफ़लता से निर्देश बेहद खुश हैं। ​10 विकेट लेने का कारनामा करने के बाद उन्होंने कहा, ‘मुझे अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है। मैं पैदा भी नहीं हुआ था, जब सर अनिल कुंबले ने 10 विकेट चटकाए थे, लेकिन मैंने उस बारे में बहुत सुना है। मैं हमेशा वैसा कुछ करना चाहता था, लेकिन कभी यह नहीं सोचा था कि यह मेरी जिंदगी में इतनी जल्दी हो जाएगा। मैंने अपने परिवार से बात की, वे भी इस सफ़लता से भावुक हो उठे।’

जिस K-4 न्यूक्लियर मिसाइल का परीक्षण करेगा डीआरडीओ, जानिए क्या है इसकी मारक क्षमता?

जानकारी के लिए बता दें कि अंडर-16 विजय मर्चेंट ट्रॉफी में निर्देश बैसोया का यह दूसरा सीजन है। वे अब तक चार मैचों में 27 विकेट अपने नाम कर चुके हैं। पिछले सीजन में उन्होंने छह मैचों में 33 विकेट झटके थे। निर्देश अपनी तीन बहनों और दो भाइयों में सबसे छोटे हैं। उल्लेखनीय है कि पिछले साल मणिपुर के तेज गेंदबाज रेक्स सिंह ने एक पारी में 10 विकेट लेने वाले सबसे युवा गेंदबाज बने थे। उन्होंने कूच बिहार ट्रॉफी में यह उपलब्धि अपने नाम की थी, लेकिन अब निर्देश बैसोया सबसे कम उम्र में यह कारनामा करने वाले गेंदबाज बन गए हैं।

COMMENT