कार्ल लजेरफेल्ड का निधन, जानिए.. इस विश्व प्रसिद्ध शख्सियत के बारे में

Views : 1551  |  0 minutes read
chaltapurza.com
Image: Karl Lagerfeld.

विश्व प्रसिद्ध फैशन डिज़ाइनर कार्ल लजेरफेल्ड (Karl Lagerfeld) का 85 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। मीडिया ख़बरों के अनुसार कार्ल पिछले दो सप्ताह से बीमार चल रहे थे। उन्हें पेरिस के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उन्होंने अंतिम सांस ली। उनकी मृत्यु की वजह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाई है। उनके जाने से फैशन की दुनिया में गहरा शोक है। इंग्लिश फैशन डिज़ाइनर हेनरी हॉलैंड ने ट्वीट करते हुए कार्ल लजेरफेल्ड के निधन को लेकर दुख जताया। उन्होंने अपनी पोस्ट में लिखा, ‘डिजाइन करने का मतलब सांस लेना है, इसलिए, अगर मैं सांस नहीं ले रहा हूं तो मैं मुश्किल में हूं। कार्ल की आत्मा को शांति मिले।’

chaltapurza.com

कौन है कार्ल लेजरफेल्ड?

फैशन इंडस्ट्री के चर्चित चेहरे कार्ल का पूरा नाम कार्ल ओट्टो लेजरफेल्ड है। कार्ल का जन्म 10 सितम्बर, 1933 को जर्मनी के हम्बर्ग में बिजनेसमैन ओट्टो लेजरफेल्ड के घर हुआ था। कार्ल फैैशन डिज़ाइनर होने साथ ही क्रिएटिव डायरेक्टर, आर्टिस्ट, फोटोग्राफर व कार्टूनिस्ट थे। जर्मन में पैदा होने वाले कार्ल पेरिस में रहते थे। वे 1983 में मशहूर पेरिस फैशन हाऊस ‘शनेल’ से बतौर क्रिएटिव डायरेक्टर जुड़े थे। उन्होंने इस ब्रांड को दुनियाभर में नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया। कार्ल फ्रेंच फैशन हाऊस शनेल के साथ ही इटालियन ब्रांड फर एंड लेदर गुड्स फैशन हाऊस ‘फेंडी’ और खुद के नाम के फैशन लेबल ‘कार्ल लेजरफेल्ड’ के भी क्रिएटिव डायरेक्टर थे। वे शनेल के साथ वर्ष 1983 में जुड़े थे और अंतिम समय तक साथ रहे। कार्ल ने जीवनभर विभिन्न प्रकार के फैशन और आर्ट से संबंधित प्रोजेक्ट में सहयोग किया।

chaltapurza.com
फैशन की दुनिया में अपने खास पहनावे के लिए जाते थे कार्ल

विश्व के सबसे पॉपुलर फैशन डिज़ाइनरों में से एक रहे कार्ल लेजरफेल्ड को अपने खास फैशन सेंस के लिए जाना जाता था। वे अक्सर सफेद बाल, काला चश्मा, ग्ल्वस और एक अलग तरह की कॉलर वाले कपड़ों के साथ नज़र आते थे। खुद फैशनेबल रहे कार्ल ज्यादतर ब्लैक सूट पहनते थे। पिछले 30 वर्षों से लक्ज़री ब्रांड शनेल के क्रिएटिव डायरेक्टर रहे कार्ल लेजरफेल्ड को उनके चाहने वाले ‘द केज़र’ के नाम से भी याद करते थे। पिछले माह जनवरी में शनेल का एक बड़ा फैशन शो आयोजित हुआ था, लेकिन खराब स्वास्थ्य के चलते पहली बार कार्ल इसमें शामिल नहीं हो सके थे।

chaltapurza.com
#मीटू कैंपेन पर बयान देकर खलबली मचाई

कार्ल लजेरफेल्ड ने #MeToo कैंपेन पर एक बयान देकर खलबली मचा दी थी। उन्होंने एक चैनल को साक्षात्कार देते हुए कहा, यदि मॉडल्स को पैंट उतारने में दिक्कत है तो उन्हें इस फील्ड में नहीं आना चाहिए। मॉडलिंग करना छोड़ देना चाहिए। कार्ल ने कहा कि वे #मीटू कैंपेन से अब तंग आ चुके हैं। उन्होंने इसके साथ ही युवा मॉडल्स को यौन उत्पीड़न से बचाने के लिए नए नियमों की आलोचना की थी।

chaltapurza.com

कार्ल ने युवा मॉडल्स की सुरक्षा में अपनाए गए नए नियमों को गलत बताया था। उन्होंने कहा कि ‘मैने कहीं पढ़ा है कि पोज देने से पहले मॉडल से पूछना चाहिए कि वह सहज महसूस कर रही है या नहीं। कार्ल लजेरफेल्ड इससे पहले एडेल के वजन से लेकर किम कार्दशियन पर विवादित टिप्पणियां कर चर्चा में रह चुके हैं।

कार्ल लजेरफेल्ड के कुछ फेमस कोट्स

1984 – On Yves Saint Laurent:

1. “He is very middle-of-the-road French-very pied-noir, very provincial.”

2. 1984 – On his feelings following a fashion show:

“I’m a kind of fashion nymphomaniac who never gets an orgasm.”

3. 1997 – On living on his own:

“I live in a set, with the curtains of the stage closed with no audience – but who cares?”

4. 2004 – On his collaboration with H&M and relying less on cost and more on the individual’s sense of style:

“Chic is a kind of mayonnaise, either it tastes, or it doesn’t.”

5. 2004 – On weight loss:

“I lost 200lb to wear suits by Hedi Slimane.”

Read More: सूर्य किरण विमान हादसा: क्या है इंडियन एयरफोर्स की एयरोबैटिक्स टीम? यहां जानिए..

COMMENT