वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया 27 मई को उड़ाएंगे ‘फ्लाइंग बुलेट’

Views : 2346  |  3 minutes read
IAF-Chief-RKS-Bhadauria

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान और चीन से भविष्य में किसी भी तरह के संभावित ख़तरों को ध्यान में रखते हुए भारतीय वायुसेना का आधुनिकीकरण जारी है। फ्रांसिसी लड़ाकू विमान राफेल की खरीद इसका एक बड़ा उदाहरण है। हाल में चीन की सेना के हेलीकॉप्टर दो भारत की सीमा में घुसने की कोशिश करते देखे गए थे, हालांकि भारतीय वायुसेना ने विमानों ने त्वरित उड़ान भरते हुए चीनी हेलीकॉप्टर को भागने पर मजबूर कर दिया। इससे पहले भारतीय और चीनी सैनिकों के आपस में झड़प के बाद लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर तनाव बढ़ने की ख़बरें भी सामने आई थीं, लेकिन दोनों ही देशों ने ऐसे मामलों में कोई ख़ास प्रतिक्रिया नहीं दीं।

इधर, ताज़ा जानकारी ये है कि भारतीय वायुसेना अध्यक्ष एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया 27 मई को वायुसेना के नंबर 18 स्क्वाड्रन ‘फ्लाइंग बुलेट’ को सुलूर एयरबेस पर उड़ाएंगे। बता दें, यह स्क्वाड्रन एलसीए तेजस एफओएस विमान से लैस होगा और एलसीए तेजस को उड़ाने वाला यह भारतीय वायुसेना का दूसरा स्क्वाड्रन होगा।

IAF-Chief-RKS-Bhadauria-

28 से ज्यादा प्रकार के विमान उड़ा चुके हैं वायुसेना प्रमुख

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इंडियन एयरफोर्स के एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया अब तक राफेल लड़ाकू विमान सहित 28 से ज्यादा प्रकार के लड़ाकू और परिवहन विमानों को सफलतापूर्वक उड़ा चुके हैं। दिलचस्प बात ये है कि एयर मार्शल भदौरिया प्रायोगिक टेस्ट पायलट होने के साथ-साथ ही कैट ‘ए’ कैटेगरी के क्वालिफाइड फ्लाइंग इंस्ट्रक्टर और पायलट अटैक इंस्ट्रक्टर भी हैं। एयरफोर्स चीफ आरकेएस भदौरिया ने 30 सितंबर 2019 को एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ की जगह ली थी। वे अपनी उत्कृष्ट सेवा के लिए कई अवॉर्ड्स से सम्मानित किए जा चुके हैं।

Read More: पूर्व हॉकी कप्तान व तीन बार के ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट बलबीर सिंह का निधन

COMMENT