12 लाख के इनामी हिजबुल कमांडर रियाज नायकू को भारतीय सेना ने किया ढेर, गणित शिक्षक से बना था आतंकी

Views : 1181  |  3 minutes read
Riyaz-Naikoo-Terrorist-Hizbul

भारतीय सुरक्षाबलों को जम्मू-कश्मीर में बुधवार को बड़ी सफ़लता मिली है। सेना के जवानों ने पुलवामा जिले के बेगपुरा में हिज़बुल मुजाहिद्दीन के टॉप कमांडर रियाज नायकू को ढेर कर दिया। भारतीय सुरक्षाबलों ने पुख्ता सूचना के आधार पर पहले इलाके की घेराबंदी की, जिसके बाद घंटों चली मुठभेड़ में 12 लाख के इनामी आतंकी रियाज नायकू को मार गिराया। बता दें कि नायकू हिज़बुल ज्वाइन करने से पहले एक गणित शिक्षक हुआ करता था, लेकिन उसने बाद में बंदूक थाम ली और आतंकवाद की राह पर चल पड़ा।

एक महीने में हो चुके सात आतंकी हमले

गौरतलब है कि कुछ समय पहले जम्मू-कश्मीर राज्य के बारामुला जिले को आतंकवाद मुक्त घोषित किया गया था। उत्तरी कश्मीर में आतंक का ग्राफ लगातार गिरने से बौखलाए आतंकी संगठनों के आकाओं ने एक बार फिर से रणनीति में बदलाव किया। इस एरिया को फिर से आतंक का हॉट बेल्ट बनाने की कोशिश थी। आतंकी संगठनों को पाकिस्तान में बैठे उनके आकाओं का ज्यादा से ज्यादा हमले करने का आदेश मिला है। यही वजह है कि पिछले एक महीने में सात आतंकी हमले हुए, जिसमें 18 भारतीय जवानों को अपनी शहादत देनी पड़ी। हालांकि, सेना ने 8 आतंकी भी मारे गिराए।

Read More: पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद का सेना देगी करारा जवाब: जनरल एमएम नरवणे

बता दें, वर्ष 2020 की शुरुआत जम्मू-कश्मीर राज्य पुलिस और सुरक्षाबलों के लिए काफी अच्छी रही थी। राज्य के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बताया था कि साल के पहले डेढ़ महीने के दौरान करीब 10 सफल अभियानों में 23 आतंकियों को मार गिराया था और 40 के करीब ओजीडब्ल्यू व आतंकी समर्थक गिरफ्तार किए। इसके अलावा सेना ने कई भटके युवाओं की घर वापसी भी करवाई, लेकिन अब अचानक से आतंकी घटनाएं बढ़ने से सुरक्षाबलों को काफी नुकसान उठाना पड़ा है। हालांकि, भारतीय सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस संयुक्त अभियान चलाकर घाटी में मौजूद आतंकियों का बड़ी तेजी से खात्मा करने में पूरी ताकत के साथ लगी हुई है।

COMMENT