आर्थिक पैकेज चौथी किस्त : अंतरिक्ष के क्षेत्र में प्राइवेट कंपनियों को दिया जाएगा मौका

Views : 894  |  3 minutes read

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 20 लाख करोड रूपये के आर्थिक विशेष पैकेज की घोषणा के तहत शनिवार को भी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पैकेज की चौथी किस्त की प्रेस वार्ता में घोषणा की है। वित्त मंत्री ने इस बार कोयला, खनिज, रक्षा उत्पादन, एयरस्पेस मैनजमेंट, एयरपोर्ट्स, केंद्रशासित प्रदेशों में बिजली वितरण कंपनियां, अंतरिक्ष क्षेत्र व परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में बडे सुधारों की घोषणा की है। जानिये इस बारे में विस्तार से-

अंतरिक्ष क्षेत्र में अब निजी कंपनियों को भी मिलेगा मौका

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक पैकेज की चौथी किस्त की घोषणा करते हुए मीडिया से कहा कि अब अंतरिक्ष क्षेत्र में निजी कंपनियों को भी अवसर मिलेगा जिससे इसरो की सुविधाओं का भी लाभ उठाने दिया जाएगा। सैटेलाइट लांचिंग व अंतरिक्ष आधारित अन्य सेवाओं में भी प्राईवेट क्षेत्र को शामिल किया जाएगा।

Read More: ट्रंप ने भारत को वेंटिलेटर देने का किया ऐलान, पीएम मोदी को बताया अपना दोस्त

केंद्रशासित प्रदेशों में बिजली वितरण कंपनियों का भी निजीकरण

प्रेस वार्ता में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि केंद्रशासित प्रदेशों में बिजली वितरण कंपनियों का निजीकरण भी किया जाएगा और जल्द ही एक टैरिफ पॉलिसी लाई जाएगी और प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे जिससे लोगों को बेहतर सेवाएं मिल पाएंगी।

डिफेंस प्रोडक्शन में एफडीआई में 74 फीसदी बढ़ोत्तरी

वित्त मंत्री सीतारमण ने प्रेस वार्ता में कहा है कि डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग में ऑटोमैटिक रूट्स के माध्यम से FDI की सीमा को 49 से बढ़ाकर 74 फीसदी कर दिया जाएगा। रक्षा उत्पादन क्षेत्र में देश को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से ‘मेक इन इंडिया’ पर भी जोर दिया।

COMMENT