चीनी अरबपति जैक मा रिटायर होने के बाद अब करने जा रहे हैं ये काम

Views : 1024  |  0 minutes read
Jack-Ma

चीनी अरबपति जैक मा ने 90 के दशक में इंटरनेट क्रांति से परिचित होने पर नौकरी छोड़ कर ख़ुद का कारोबार शुरु करने की ठानी थी। जैक ने इसके तहत सबसे पहले अलीबाबा.कॉम की स्थापना की। उन्होंने अपने दोस्तों को राज़ी करते हुए उनसे 60,000 डॉलर जुटाए थे और ऑनलाइन क्रय- विक्रय की सुविधा देने वाला इंटरनेट बाज़ार अलीबाबा की शुरुआत की। इस वक़्त चीन में इंटरनेट का उपयोग करने वालों की संख्या मात्र 1 प्रतिशत थी। जैसे-जैसे इंटरनेट यूजर्स की संख्या बड़ी जैक की कमाई तेजी से बढ़ने लगी। इससे वह बहुत जल्द ही अरबपति बन गए।

हालांकि, 30 कंपनियों द्वारा नौकरी के लिए रिजेक्ट हो चुके जैक के लिए यहां तक पहुंचना आसान नहीं था। लेकिन उन्होंने अथक मेहनत कर अपनी तकदीर बदली। अब 55 साल की उम्र में जैक मा ने अपनी कंपनी अलीबाबा समूह के चेयरमैन पद से रिटायरमेंट ले लिया है। जैक अपने 55वें जन्मदिन पर 10 सितंबर, 2019 मंगलवार को विधिवत तौर पर रिटायर हो गए। उन्होंने चीन के हांगजोऊ शहर में स्थित ओलम्पिक स्पोर्ट्स स्टेडियम में 80 हजार लोगों के बीच संन्यास की घोषणा की। अब अलीबाबा समूह की जिम्मेदारी डेनियल झांग के हाथों में होगी। झांग अलीबाबा को आगे बढ़ाएंगे।

रिटायरमेंट के बाद अब शिक्षण कार्य करेंगे जैक

460 अरब डॉलर के अलीबाबा समूह के मालिक जैक मा रिटायरमेंट के बाद शिक्षण का कार्य करेंगे। इसके साथ ही वह अपनी संपत्ति में से 41 अरब डॉलर का दान भी शिक्षण संस्थानों को देंगे। अपने रिटायरमेंट के बारे में जैक के काफ़ी पहले ही यह बात कह दी थी कि वे बिल गेट्स से प्रभावित हैं और उनकी तरह ही सही समय पर रिटायर होना चाहते हैं। बता दें, बड़ी कंपनियों के नेतृत्व बदलने पर कंपनी के शेयर की कीमतों में गिरावट आती है, लेकिन अलीबाबा के मामले में ऐसा नहीं हुआ। इसकी वजह जैक द्वारा कंपनी की बनाई गई वैल्यू और ब्रांडिंग है। जैक मा को चीन की अर्थव्यवस्था, ऑनलाइन कारोबार और इंटरनेट में योगदान के लिए जाना जाता है।

Jack-Ma
66 हजार कर्मचारी काम करते हैं अलीबाबा कंपनी में

जैक मां द्वारा वर्ष 1999 में स्थापित अलीबाबा कंपनी में फिलहाल करीब 66 हजार स्थायी कर्मचारी काम करते हैं। जैक ने 20 साल पहले 18 लोगों से साथ कंपनी की शुरुआत की थी। उनकी इस कंपनी ने रिटेल कंपनियों को सामान बेचने से आगे बढ़कर वित्तीय सेवाओं और ई-कॉमर्स में नए कीर्तिमान रच दिए। कंपनी के साथ आज बड़ी संख्या में उपभोक्ता जुड़े हुए हैं। जानकारी के अनुसार, हर महीने करीब 7.5 करोड़ लोग अलीबाबा.कॉम पर खरीदारी करते हैं।

Jack-Ma
भारत में किया बड़ा निवेश, विवादित बयानों से भी रहे सुर्खियों में

जैक मा की कंपनी अलीबाबा का चीन के बाहर भारत समेत पूरे विश्व में कई जगह कार्यालय हैं। भारत में अलीबाबा का उत्पाद यूसी ब्राउजर और यूसी न्यूज का लोग बड़ी संख्या में उपयोग करते हैं। इसके अलावा भारत में ई-कॉमर्स वेबसाइट अलीबाबा.कॉम भी पॉपुलर है। जैक की कंपनी अलीबाबा ने भारत में जोमाटो, पेटीएम, ऑनलाइन ग्रोसेरी कंपनी बिगबास्केट आदि में भी निवेश किया हुआ है।

पाक की पहली महिला एस्ट्रोनॉट नमीरा सलीम ने इसरो के मिशन चंद्रयान-2 की तारीफ़ में कहे ये शब्द

जैक मा का विवादों से भी नाता रहा है। कुछ महीनों पहले वे विवादित बयानों को लेकर के सुर्खियों में रहे थे। इन बयान को लेकर के जैक की दुनियाभर में आलोचना हुई थी। उन्होंने कार्यालय में काम करने को लेकर 996 का फॉर्मूला दिया था। जैक ने कहा कि अगर अलीबाबा में नौकरी करनी है तो हफ्ते में छह दिन और रोजाना 12 घंटे काम करना होगा। इसके अलावा जैक ने संबंध बनाने को लेकर भी एक अज़ीब बयान दिया था। जैक ने एक शादी समारोह में कहा कि कर्मचारियों को हफ्ते के छह दिन और छह बार शारीरिक संबंध बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि काम में 996 और ज़िंदग़ी में कर्मचारियों को 669 का मॉडल फॉलो करना चाहिए। इससे लाइफ जीना आसान हो जाएगा।

COMMENT