सशस्त्र सेना झंडा दिवस: सशस्त्र बलों का अतुलनीय योगदान, सेनाओं के कल्याण में योगदान दें- पीएम मोदी

Views : 2373  |  3 minutes read
Armed-Forces-Flag-Day

देश की सीमाओं की रक्षा करने वाले सशस्त्र सेनाओं के जवानों, शहीदों और उनके परिवारों के सम्मान में आज 7 दिसंबर को सशस्त्र सेना झंडा दिवस मनाया जा रहा है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत देश के कई बड़े नेताओं ने भारतीय सशस्त्र सेनाओं के जवानों की वीरता को सलाम किया और सेना को बधाई दीं। साथ ही उन्होंने देशवासियों से सशस्त्र सेना झंडा दिवस कोष में योगदान देने का भी आह्वान किया।

हमारे जवानों की दृढ़ता और साहस काबिले तारीफ

पीएम मोदी ने सशस्त्र सेना के जवानों की वीरता को सलाम करते हुए ट्वीट किया, ‘सशस्त्र सेना झंडा दिवस के अवसर पर मैं एक बार फिर हमारे सशस्त्र बलों के अतुलनीय योगदानों को रेखांकित करना चाहूंगा। उनकी दृढ़ता और साहस काबिले तारीफ है। मैं आप सभी से आग्रह करूंगा कि आप भी हमारी सेनाओं के कल्याण में अपना योगदान दें।’ प्रधानमंत्री ने सोशल मीडिया पोस्ट के साथ दो फोटो भी अपलोड की है, जिसमें से एक में वे सेना के कोष में दान करते नज़र आ रहे हैं। दूसरी फोटो में सेना की ओर से उन्हें स्मरण पुस्तिका प्रदान की जा रही है।

वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीदों के बलिदान को नमन करते हुए लिखा, ‘सशस्त्र सेना झंडा दिवस’ के अवसर पर, मैं भारत की सेनाओं के शौर्य, पराक्रम और बलिदान को नमन करता हूँ। मैं सभी देशवासियों से अपील करता हूँ कि यह पूरा महीना ‘गौरव माह’ के रूप में मनाएं और सशस्त्र सेना ध्वज धारण कर Armed Forces Flag Day Fund में उदारतापूर्वक योगदान करें।’

वर्ष 1949 में हुई थी झंडा दिवस की शुरुआत

आपको बता दें कि देश में हर वर्ष 7 दिसंबर को सशस्त्र सेना झंडा दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसकी शुरूआत वर्ष 1949 में हुई थी। इस दिन भारतीय सशस्त्र सेनाओं के वो जवान जो मातृभूमि की रक्षा करते हुए शहीद हुए हैं, उनके बलिदान का स्मरण करते हुए शहीद जवानों के परिवारों के कल्याण के लिए धनराशि एकत्र की जाती है। यह एक ऐसा दिन है जब भारत के सर्वोच्‍च पद पर बैठे हुए व्‍यक्ति से लेकर आम आदमी तक देश के जवानों के लिए आर्थिक सहयोग करता है। शुरूआत में इसे झंडा दिवस के रूप में मनाया जाता था, लेकिन वर्ष 1993 से इसे सशस्त्र सेना झंडा दिवस के रूप में मनाया जाने लगा।

रक्षा मंत्रालय ने कोष में दान देने वालों को किया सम्मानित

रक्षा मंत्रालय ने वर्ष 2020-21 में सशस्त्र सेना कोष में प्रमुख रूप से योगदान करने वालों को सम्मानित किया। इनमें भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई)और सन टीवी (सन टीवी) शामिल हैं। इस अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार सशस्त्र बलों के कर्मियों व पूर्व सैनिकों को हरसंभव सहायता प्रदान कर रही है, लेकिन उनका कल्याण एक सामूहिक जिम्मेदारी है।

आप भी इस लिंक के जरिये कर सकते हैं दान

https://ksb.gov.in/DonateAFFDF.htm

Read Also: 4 दिसंबर को भारतीय नौसेना दिवस मनाए जाने के पीछे की ये है कहानी

COMMENT