गज़ब: 7 साल की आरएन ग्लोरी लाखों लोगों को दे रही है यूट्यूब पर शिक्षा

Views : 1250  |  0 minutes read
chaltapurza.com

टैलेंट के दम पर दुनिया में अपना नाम बनाने के लिए कुछ अलग करने की चाहत रखने वालों को यूट्यूब ने एक नई पहचान दिलाई है। कई यूट्यूबर आज बड़े नाम बन चुके हैं। इनके यूट्यूब और सोशल मीडिया पर लाखों की संख्या में फैंस हैं। ऐसे भी हजारों यूट्यूबर हैं जो उम्र में भले ही छोटे हैं, लेकिन उनके चैनल पर सबस्क्राइबर की संख्या लाखों में है। ऐसी ही एक नन्हीं यूट्यूबर आरएन ग्लोरी है। मात्र 7 वर्षीय ग्लोरी के यूट्यूब चैनल पर 2 लाख 84 हजार सबस्क्राइबर्स हैं।

chaltapurza.com

15 महीने में ही यूट्यूब का ‘सिल्वर बटन’ पा चुकी है ग्लोरी

यूट्यूबर आएन ग्लोरी उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में रहती है। उनका अंदाज लोगों को खूब भा रहा है। वह अपने हर वीडियो में आत्मविश्वास से लबरेज दिखती है। ग्लोरी अपनी चहकती आवाज के साथ यूट्यूब पर ​लाखों ​लोगों को पाठ पढ़ाती है। यूट्यूब के जरिए अलग-अलग सब्जेक्ट पर शिक्षा देने वाली ग्लोरी के वीडियोज अब तक 1.25 करोड़ से ज्यादा व्यूज मिले चुके हैं। आरएन ग्लोरी ने 14 मई, 2018 को यूट्यूब ज्वॉइन किया था। मात्र 15 महीनों में वह यूट्यूब द्वारा ‘सिल्वर बटन’ देकर सम्मानित की जा चुकी है। अब वह अपने यूट्यूब चैनल के जरिए अच्छी कमाई भी कर रही है।

मैथ्स, इंग्लिश और जनरल नॉलेज से जुड़े सवालों पर देती है शिक्षा

प्रयागराज के पास झूंसी कस्बे की रहने वाली आरएन ग्लोरी इतनी कम उम्र में दुनिया को अपनी काबिलियत से रूबरू करा रही है। ग्लोरी मैथ्स, इंग्लिश और जनरल नॉलेज से जुड़े सवालों के जवाब यूट्यूब पर शेयर करती है। वह अकेली ही कैमरे के सामने खड़ी होकर अपने वीडियो बनाती है और उसे कंप्यूटर पर एडिट कर यूट्यूब पर अपलोड भी खुद ही करती है। ग्लोरी कभी इंग्लिश ग्रामर तो कभी गु़णा-भाग और चक्रवृद्धि ब्याज से संबंधित जानकारी वीडियोज के माध्यम से यूट्यूब पर साझा करती रहती है। इनके अलावा वह कभी-कभी जनरल नॉलेज से संबंधित वीडियो भी अपने चैनल पर अपलोड करती है।

Read More: अपने अभिनय कौशल के दम पर बॉलीवुड में ख़ास पहचान बना चुके हैं राजकुमार राव

मामा ने बनाया यूट्यूब चैनल, कई देशों में देखे जाते हैं वीडियो

आरएन ग्लोरी का यूट्यूब चैनल उनके मामा जीआर डेविड ने बनाया था। उसे मामा भी अपने यूट्यूब चैनल पर नई बाइक्स की जानकारी देते हैं। ग्लोरी अपने चैनल पर अब तक 200 से अधिक वीडियो यूट्यूब पर अपलोड कर चुकी हैं। भारत के अलावा उनके वीडियो पाकिस्तान, भूटान, नेपाल, आस्ट्रेलिया जैसे देशों में देखे और पसंद किए जाते हैं। इस काम में उनके पापा और मामा ग्लोरी का पूरा सपोर्ट करते हैं।

आरएन ग्लोरी का असल नाम खुशी है और वह आगे चलकर टीचर बनना चाहती है। ग्लोरी की मां रंजना पूर्वांचल विश्वविद्यालय, जौनपुर में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पद कार्यरत हैं, जबकि उनके पिता पेशे से एक आयुर्वेद चिकित्सक हैं। ग्लोरी सप्ताह में एक दिन यूट्यूब पर ऑनलाइन आती है और लोगों के सवालों के जवाब भी देती है। ग्लोरी को यूट्यूब पर लोग ‘छोटे सर’ कहकर बुलाते हैं। वह अभी कक्षा 4 में पढ़ाई कर रही है।

COMMENT