योगी सरकार ने यूपी के सभी स्वास्थ्य कर्मियों के मानदेय में 25 फीसदी बढ़ोतरी की

Views : 626  |  3 minutes read
UP-CM-Yogi

उत्तर प्रदेश समेत देशभर में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। इसी बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के विरुद्ध संघर्ष में और तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा सीएम योगी ने अस्पतालों में सेवारत डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ को कोविड सेवा के दिवसों के लिए 25 फीसदी अतिरिक्त राशि देने का भी ऐलान किया है। उन्होंने निर्देशित किया कि प्रदेश में 6 मई को प्रात: 7 बजे तक आंशिक कोरोना कर्फ्यू प्रभावी रहेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वर्चुअल माध्यम से एक उच्चस्तरीय बैठक में कोरोना महामारी की स्थिति की समीक्षा करते हुए ये निर्देश दिए।

एंटीजन टेस्ट करने के लिए पर्याप्त किट के निर्देश

इस उच्चस्तरीय बैठक में बताया गया कि उत्तरप्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना की 2,29,440 जांच की गईं। इसमें 1,29,000 से अधिक आरटीपीसीआर टेस्ट किए गए। विगत दिवस कोरोना वायरस संक्रमण के 29,192 नए मामले आए हैं, जबकि 38,687 व्यक्ति डिस्चार्ज किए गए। राज्य में कुल एक्टिव मामलों की संख्या 2,85,832 रह गई है। इस दौरान सीएम योगी ने ज्यादा से ज्यादा एंटीजन टेस्ट करने के लिए पर्याप्त संख्या में किट की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों में अभियान के दौरान शहरी क्षेत्रों में कोरोना टेस्टिंग का कार्य भी चलता रहे।

जहां संभव हो, वर्क फ्रॉम होम को प्रोत्साहित किया जाए

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चिकित्सा शिक्षा विभाग और स्वास्थ्य विभाग को राज्यस्तर पर विशेषज्ञों की सलाहकार समिति गठित किए जाने के भी निर्देश दिए। साथ ही कहा कि समिति के विशेषज्ञ संक्रमण से बचाव के उपायों को विभिन्न मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से व्यापक स्तर पर प्रचारित-प्रसारित कराएं। जिलास्तर पर भी इसी तरह विशेषज्ञों के पैनल का गठन किए जाने के निर्देश दिए। सीएम योगी ने निर्देश दिए कि प्रदेश के अंदर ही संचालित हो रही बस संचालन में कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाए।

उन्होंने कहा कि औद्योगिक संस्थानों और इकाइयों में कोविड हेल्प डेस्क व आवश्यकता अनुसार कोविड केयर सेंटर स्थापित रहे। घर से काम अगर हो सकता हो, तो वर्क फ्रॉम होम को प्रोत्साहित किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि खाद्यान्न वितरण और गेहूं क्रय की व्यवस्था को सुचारू ढंग से संचालित किया जाए।

Read More: देश में जुलाई तक कोरोना वैक्सीन की कमी देखी जा सकती है: अदार पूनावाला

COMMENT