पश्चिम बंगाल: चुनाव से पहले टीएमसी को बड़ा झटका, पार्टी के पांच विधायक भाजपा में शामिल

Views : 1633  |  3 minutes read
West-Bengal-News-Hindi

पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में अब कुछ दिन और शेष रह गए हैं। एक ओर जहां तृणमूल कांग्रेस पार्टी (TMC) ममता बनर्जी के नेतृत्व में इस बार हैट्रिक लगाने की तैयारी में है, वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) राज्य में पहली बार सत्ता में आने के लिए पूरा जोर लगा रही है। इसी बीच राज्य में चुनाव से पहले टीएमसी प्रमुख व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, हबीबपुर निर्वाचन क्षेत्र से टीएमसी की उम्मीदवार सरला मूर्मू समेत पांच विधायक सोनाली गुहा, दीपेंदु बिश्वास, रवींद्रनाथ भट्टाचार्य और जाटू लाहिड़ी भाजपा में शामिल हो गए। टीएमसी के इन सभी नेताओं ने पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष, भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी और मुकुल रॉय की उपस्थिति में पार्टी की सदस्यता ग्रहण कीं।

सरला मूर्मू का स्वास्थ्य ठीक नहीं है: तृणमूल कांग्रेस

इससे पहले टीएमसी ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि पार्टी ने हबीबपुर निर्वाचन क्षेत्र से अपना उम्मीदवार बदला है। पार्टी ने इसके पीछे कारण दिया कि सरला मूर्मू का स्वास्थ्य ठीक नहीं है। टीएमसी के लिए पहला मामला है, जब किसी उम्मीदवार ने पार्टी की ओर से टिकट मिलने के बाद पार्टी छोड़ दी हो। वहीं, तृणमूल कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि पार्टी किसी उम्मीदवार को किसी निर्वाचन क्षेत्र से उसकी निजी इच्छा के अनुसार नहीं, बल्कि उसके जीतने की संभावनाओं के आधार पर खड़ा करती है। तृणमूल कांग्रेस ने अपने बयान में कहा, ‘यह सूचित किया जाता है कि सरला मुर्मू के खराब स्वास्थ्य के कारण मालदा जिले के हबीबपुर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से उम्मीदवार बदलना पड़ा। प्रदीप बास्के इस निर्वाचन क्षेत्र से आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेंगे।’

गत चुनाव में टीएमसी को लगा था करारा झटका

आपको बता दें कि मालदा जिले में इस बार 26 और 29 अप्रैल को दो चरणों में चुनाव होना है। मालदा जिले में कुल 12 विधानसभा सीटें हैं। साल 2016 के विधानसभा चुनाव में टीएमसी का यहां सूपड़ा साफ हो गया था और जिले से भाजपा के खाते में दो सीटें आई थीं। वहीं, कांग्रेस ने यहां सबसे ज्यादा आठ सीटों पर जीत दर्ज की थी। टीएमसी ने इस बार चुनाव में प्रत्याशियों के तौर पर कई मशहूर हस्तियों, महिलाओं और युवाओं को प्राथमिकता दी है। पार्टी ने 291 सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है और तीन सीटें अपने सहयोगी दल को दी हैं। गौर करने वाली बात है कि इस बार पश्चिम बंगाल के इतिहास में पहली बार विधानसभा चुनाव आठ चरणों में होंगे।

Read: टीएमसी ने सभी सीटों पर प्रत्याशियों की सूची जारी की, नंदीग्राम से चुनाव लड़ेगी ममता

COMMENT