हो जाये सावधान! आपकी शादीशुदा जिंदगी में ग्रहण लगा सकती है ये पांच आदतें

Views : 2077  |  5 min read

एक अच्छा पति वह है जो अपनी पत्नी की भावनाओं को समझता है, उसका सम्मान करता है और अनावश्यक रूप से झगड़ा नहीं करता है। यह तभी संभव होगा जब पति-पत्नी के बीच संबंध सौहार्दपूर्ण हो। आपका दाम्पत्य जीवन तभी सफल होगा जब आपका बंधन मधुर होगा। अक्सर देखा जाता है कि शादी के कुछ सालों बाद ही रिश्तों में खटास आ जाती है। कभी-कभी तो रिश्ते में तलाक की नौबत तक आ जाती है। आखिर ऐसे कौनसे कारण है जिनके कारण एक खुशहाल रिश्ता बदसूरत शक्ल ले लेता है।

अक्सर देखा जाता है कि लोग अपने पार्टनर के बारे में अपने दोस्तों, माता-पिता, दोस्तों और रिश्तेदारों को बुरी बातें बताते हैं। जब लोगों को आप उनके नकारात्मक पक्ष के बारे में बताते हैं, तो उनके बारे में केवल बुरी बातें ही सुनी जाएंगी। जिसके कारण कई बार आपके सोचने का तरीका नकारात्मक हो जाता है और झगड़े शुरू हो जाते हैं।

इस जोड़ी के बीच झगड़ा कोई नई बात नहीं है। लेकिन हर बार जब आप झगड़े के समय पिछली गलतियों को गिनना शुरू करते हैं, तो मान कर चलिए ये झगड़े कभी खत्म नहीं होगें। इसलिए समझदारी इसी में ही है कि पिछली बातों को पीछे छोड़ दिया जाए।

यदि कोई लड़ने के मूड में है, तो दूसरे को चुप रहना चाहिए जो अच्छा है, लेकिन ध्यान रखें कि यह लंबे समय तक नहीं रहना चाहिए। अगर आप एक-दूसरे से बात करना बंद कर देते हैं, तो स्वाभाविक है कि रिश्ता टूट जाएगा।

कोई भी अपने माता-पिता के खिलाफ बुराई करना पसंद नहीं करता है। यदि आप रिश्ते में समस्याएं पैदा नहीं करना चाहते हैं, तो एक-दूसरे के माता-पिता को सम्मान दें और अपने झगड़ों का कारण ना बनाएं।

अपने जीवनसाथी की तुलना किसी और से न करें। हर इंसान की अपनी खूबियां और अवगुण होते हैं। दूर से अच्छा दिखने वाला व्यक्ति अच्छा नहीं हो सकता है। इसलिए बेहतर है कि किसी की तुलना किसी से नहीं करनी चाहिए।

COMMENT