आईआईएमसी के महानिदेशक बने संजय द्विवेदी, अगले 3 साल के लिए हुई नियुक्ति

Views : 945  |  3 minutes read
IIMC-Sanjay-Dwivedi

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय प्रभारी कुलपति और रजिस्ट्रार संजय द्विवेदी को दिल्ली स्थित भारतीय जनसंचार संस्थान यानी आईआईएमसी का महानिदेशक नियुक्त किया गया है। उनको आईआईएमसी का डायरेक्टर जनरल बनाए जाने की अधिसूचना जारी कर दी गई है। संजय द्विवेदी को अगले 3 साल के लिए महानिदेशक आईआईएमसी नियुक्त किया गया है। कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी किए गए इस आदेश के मुताबिक केंद्रीय कैबिनेट ने उनकी नियुक्ति को हरी झंडी दे दी है।

बीते एक साल से खाली था आईआईएमसी डीजी का पद

माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति संजय द्विवेदी को तीन साल की अवधि के लिए सीधी भर्ती के आधार पर आईआईएमसी के महानिदेशक के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दी गई है। आईआईएमसी के डायरेक्टर जनरल का पद बीते एक साल से खाली था, अब प्रोफेसर द्विवेदी पदभार संभालेंगे। आपको जानकारी के लिए बता दें कि प्रो. संजय द्विवेदी वर्तमान में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार भी हैं और उन्हें पूर्व कुलपति दीपक तिवारी के इस्तीफा देने के बाद विश्वविद्यालय का प्रभारी कुलपति बनाया गया था।

भारत-चीन विवाद: आर्मी चीफ नरवणे के साथ लेह का दौरा करेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

एमसीयू में जनसंचार विभाग के एचओडी रह चुके हैं द्विवेदी

बता दें कि प्रोफेसर संजय द्विवेदी लंबे समय से माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय में जनसंपर्क विभाग और बाद में पत्रकारिता विभाग के विभागाध्यक्ष भी रहे हैं। वह मीडिया विमर्श पत्रिका के कार्यकारी संपादक भी हैं। इसके साथ ही 25 पुस्तकों का लेखन और संपादन भी कर चुके हैं। साल 2019 में जब पत्रकार दीपक तिवारी कुलपति बने तो संजय द्विवेदी को पहले कुलसचिव के पद से हटाया गया।

इसके कुछ दिनों बाद उन्हें पत्रकारिता विभाग के अध्यक्ष पद से भी हटा दिया गया था। इसके बाद संजय द्विवेदी यूनिवर्सिटी में बतौर प्रोफेसर अपनी सेवाएं दे रहे थे, लेकिन सत्ता बदलते ही उन्हें बीजेपी सरकार ने विश्वविद्यालय में रजिस्ट्रार बनाया और कुलपति के पद का अतिरिक्त प्रभार भी सौंप दिया।

COMMENT