रिसर्च : धूम्रपान करने वालों को कोरोना वायरस से है सबसे ज्यादा खतरा

Views : 791  |  3 minutes read

दुनिया में कोरोना का खतरा जारी है और विश्व में करीब सवा लाख लोगों की मौत हो चुकी है। इस बीच कई रिसर्च में यह बात सामने आई है कि धूम्रपान करने वालों कोे कोरोना वायरस से ज्यादा खतरा होता है। जानिये, इस बारे में विस्तार से कि आखिर किस तरह कोरोना धूम्रपान करने वालों को संक्रमित कर सकता है।

डब्लूएचओ दे चुका है ये चेतावनी

धूम्रपान करने से कोरोना संक्रमण का खतरा ज्यादा होने के मामले में विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि डब्लूएचओ भी पहले चेतावनी दे चुका है। इस चेतावनी में डब्लूएचओ ने कहा था कि जब तक कोरोना का प्रकोप बना हुआ है तब तक धूम्रपान करने वालों को अपनी यह आदत तुरंत छोड देनी चाहिए। इस संस्था में कार्यरत विशेषज्ञों का कहना है कि सिगरेट,बीडी या तंबाकू का सेवन करने वालों को इस महामारी से संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है।

Read More: लंबे समय तक फिट रहना है तो इस तरह करें सदाबहार पौष्टिक आहार

आईआईटी के रिसर्च में भी अब आई ये बात

इधर भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान यानि आईआईटी जोधपुर के वैज्ञानिकों की हाल ही में हुई रिसर्च में भी यह बात सामने आई है कि धूम्रपान करने से इस महामारी से संक्रमित होने का खतरा सबसे ज्यादा है। आईआईटी जोधपुर में प्रोफेसर सूरजजीत घोष के नेतृत्व में किए गए इस शोध में इस बारे में विस्तार से बताया गया है। इस रिसर्च में यह भी बात सामने आई है कि कोरोना मरीजों की न्यूरोलॉजिकल संक्रमण को अनुबंधित करने की संभावना धूम्रपान जैसे माध्यमिक कारकों की तरफ तेज होती है और धूम्रपान कोरोना आधारित न्यूरोइंफेक्शन के अनुबंध की संभावना को बढ़ा सकते हैं।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी करता है कमजोर

अध्ययन में यह बात सामने आई है कि कोरोना वायरस धूम्रपान करने वाले व्यक्तियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी कमजोर करता है जिससे इनके संक्रमित होने की संभावना कई ज्यादा गुना होती है। यह वायरस उंगलियों व होठों के जरिये आसानी से संपर्क में आकर संक्रमण फैला देता है। इसलिए धूम्रपान छोडने में ही भलाई है और इस महामारी से दूर रह सकते हैं।

COMMENT