पंजाब चुनाव से पहले शिरोमणि अकाली दल और कांग्रेस के चार नेताओं ने ज्वाइन की भाजपा

Views : 666  |  3 minutes read
Punjab-Four-Leaders-Joined-BJP

पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा राज्य में अपना जनाधार बढ़ाने के लिए अन्य दलों के नाराज़ नेताओं को पार्टी में शामिल कराने का प्रयास कर रही है। बुधवार को शिरोमणि अकाली दल के नेता जगदीप सिंह नकाई और कांग्रेस के पूर्व विधायक शमशेर सिंह राय समेत चार नेताओं ने केंद्रीय मंत्री व पंजाब चुनाव प्रभारी गजेन्द्र सिंह शेखावत की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली।

बता दें कि पंजाब में अब से पहले तक भाजपा एनडीए के साथी रहे शिरोमणि अकाली दल के साथ मिलकर चुनाव लड़ती रही है। इसमें उसकी भूमिका हमेशा से ही छोटे भाई की रहीं। अकाली दल के साथ अपना पुराना गठबंधन टूटने के बाद भाजपा इस बार कैप्टन अमरिंदर सिंह और सुखदेव सिंह ढींढसा की पार्टी के साथ मिलकर नए गठबंधन में चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी कर चुकी है।

पीएम मोदी के नेतृत्व में विश्वास रख भाजपा में शामिल हुए

राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा शामिल हुए शिरोमणि अकाली दल के नेता जगदीप सिंह नकाई नकाई, रविप्रीत सिंह सिंधु, हरभाग सिंह देसु और पूर्व कांग्रेस विधायक शमशेर सिंह राय का स्वागत करते हुए केंद्रीय मंत्री और पंजाब के चुनाव प्रभारी गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि ये नेता नए पंजाब की अवधारणा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विश्वास रख भारतीय जनता पार्टी में आए हैं। उन्होंने दावा किया कि तेज गति से हो रहा विकास बता रहा है कि पंजाब में हवा किसके पक्ष में बह रही है। उधर, चर्चा है कि 5 जनवरी को राज्य के फिरोजपुर में होने वाली रैली को प्रधानमंत्री मोदी संबोधित कर सकते हैं।

भाजपा, ढींढसा और कैप्टन के बीच जल्द होगी सीट शेयरिंग

आपको जानकारी के लिए बता दें कि पंजाब में साल 2022 में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की पंजाब लोक कांग्रेस और सुखदेव सिंह ढींढसा के नेतृत्व वाले शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) के साथ गठबंधन का ऐलान किया है। इस गठबंधन के नेताओं ने हाल में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के साथ दिल्ली स्थित उनके आवास पर बैठक की थी। इसमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी शामिल रहे थे। बैठक में सीटों के बंटवारे को लेकर भी चर्चा की गई, जिसके लिए एक संयुक्त समिति गठित कर दी है, जो जल्द ही गठबंधन में तीनों दलों के बीच सीटों का बंटवारा तय करेगी।

पंजाब में पीएम मोदी की रैली के साथ 5 जनवरी को चुनाव अभियान का आगाज़ करेगी भाजपा

COMMENT