एनआईओएस अग्निवीरों को 12वीं पास कराने के लिए शुरू करेगा विशेष कोर्स

Views : 586  |  3 minutes read
NIOS-Announcement-for-Agniveers

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को घोषणा की कि वह केंद्र सरकार द्वारा घोषित सैनिक भर्ती की ‘अग्निपथ’ योजना को धरातल पर उतारने में मददगार पाठ्यक्रम शुरू करेगा। युवाओं को भविष्य में करिअर बनाने के योग्य प्रशिक्षण और योग्यता भी उपलब्ध कराएगा। इसी क्रम में इग्नू के बाद अब राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (NIOS) की ओर से एक विशेष कोर्स शुरू किया जाएगा।

प्रमाण-पत्र से उच्च शिक्षा और रोजगार के लिए मान्य होगा

एनआईओएस ने बताया कि इसके माध्यम से एक विशेष कार्यक्रम चलाया जाएगा। केंद्र सरकार की इस पहल के तहत एनआईओएस कक्षा 12वीं पास प्रमाण-पत्र प्राप्त करने के इच्छानुसार मैट्रिक पास करने वाले ‘अग्निवीर’ की मदद करने के लिए अनुकूलित पाठ्यक्रम विकसित करेगा। एनआईओएस द्वारा जारी किए जाने वाले प्रमाण-पत्रों को उच्च शिक्षा के साथ-साथ रोजगार के लिए भी मान्यता दी जाएगी।

स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग अपने स्वायत्त संस्थान, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग के माध्यम से, रक्षा अधिकारियों के परामर्श के आधार पर एक विशेष कार्यक्रम को शुरू करने की तैयार कर रहा है। यह कार्यक्रम जो उन अग्निवीरों को सक्षम बनाएगा जो 10वीं कक्षा पास हैं और अपनी शिक्षा को आगे बढ़ाना चाहते हैं। साथ ही 12वीं कक्षा पास करने के इच्छुक हैं।

इग्नू चलाएगा कौशल-आधारित स्नातक डिग्री कार्यक्रम

शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, अनुकूलित पाठ्यक्रम विकसित करके प्रमाण-पत्र जो न केवल वर्तमान बल्कि उनके सेवा क्षेत्र के लिए बहुत प्रासंगिक हैं। इससे पहले बुधवार को, शिक्षा मंत्रालय ने घोषणा की थी कि वह रक्षा कर्मियों की सेवा के लिए तीन वर्षीय, कौशल-आधारित स्नातक डिग्री कार्यक्रम शुरू करेगा, जो रक्षा प्रतिष्ठानों में उनके कार्यकाल के दौरान उनके द्वारा प्राप्त कौशल प्रशिक्षण को मान्यता देगा। इग्नू यानी इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी इस कार्यक्रम को लागू करेगी।

Read Also: यूजीसी ने डुअल डिग्री प्रोग्राम को मान्यता दी, छात्रों को होगा दोहरा फायदा

COMMENT