लॉकडाउन: भारत की इन प्रमुख नदियों का पानी वर्षों बाद दिखाई देने लगा साफ

Views : 1039  |  3 minutes read

कोरोना संकट की वजह से देश में लॉक डाउन के सकारात्मक परिणाम भी सामने आने लगे हैं। कई वर्षों बाद प्रमुख नदी गंगा और यमुना का पानी साफ बहते हुए दिखाई देने लगा है और इन नदियों के पानी में करीब 50 प्रतिशत प्रदूषण की भी कमी आई है।

इस वजह से स्वच्छ हुआ गंगा-यमुना का पानी

भारत में 14 अप्रैल तक लॉक डाउन घोषित है और इस वजह से देश की सभी फैक्ट्रियां आदि भी बंद है जिससे गंगा व यमुना में होने वाला प्रदूषण भी बंद हो गया है और नदियों का पानी अब कई साल बाद साफ दिखाई दे रहा है।

40 से 50 फीसदी तक प्रदूषण हुआ कम

जानकारों का दावा है कि 21 दिन के लॉक डाउन की वजह से देश की प्रमुख नदी गंगा व यमुना में करीब 40 से 50 प्रतिशत तक प्रदूषण में कमी आई है। राजधानी दिल्ली में जहां यमुना का पानी प्रदूषण न होने से स्पष्ट दिखाई दे रहा है तो यूपी के कानपुर व बनारस शहर में गंगा का शांत पानी स्वच्छ नजर आ रहा है जिससे लोगों में खुशी का माहौल है।

Read More: कोरोना: विश्व प्रसिद्ध गंगा आरती में आम लोगों के प्रवेश व वैष्णो देवी यात्रा पर लगी रोक

लोगों में गंगा नदी के प्रति विशेष आस्था

गौरतलब है कि देश के लोगों में गंगा नदी के प्रति विशेष आस्था है और गंगा नदी में रोज हजारों लोग डुबकी लगाकर पुण्य कमाते हैं। लेकिन वर्षों से गंगा व यमुना में प्रदूषण काफी बढ गया है। इस प्रदूषण का प्रमुख कारण फैक्ट्रियों की गंदगी व सरकार द्वारा उचित ध्यान नहीं दिया जाना है। इन नदियों में प्रदूषण के खिलाफ समय समय पर लोगों ने नाराजगी जताई है व मुद्दे उठाए हैं।

COMMENT