देश की प्रमुख टेलीकॉम कंपनियां टैरिफ बढ़ाने की तैयारी में, इस तारीख से शुरु होंगे नए पैक

Views : 909  |  0 minutes read
Mobile-Tariff-Increase

देश की प्रमुख टेलीकॉम कंपनियां एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया के बाद अब रिलायंस जियो ने भी मोबाइल टैरिफ बढ़ाने का ऐलान कर दिया। सोमवार को एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया ने अपने टैरिफ बढ़ाने की घोषणा की थी, जिसके बाद रिलायंस ने भी मंगलवार को टैरिफ बढ़ाने का फैसला लिया है। रिलायंस जियो ने कहा कि टैरिफ बढ़ाने से डाटा की खपत पर कोई असर नहीं पड़ेगा। जियो अगले कुछ हफ्ते में मोबाइल टैरिफ बढ़ाएगा। वहीं, दो प्रमुख टेलीकॉम कंपनी एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया 1 दिसम्बर से अपने मोबाइल टैरिफ में बढ़ोतरी करने जा रही है। यानि टेलीकॉम उपभोक्ताओं को अब इसके इस्तेमाल के लिए ज्यादा कीमत चुकानी होगी।

वित्तीय जरूरतों के साथ संतुलन भी जरूरी: एयरटेल

देश की तीसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी एयरटेल ने सोमवार को कहा कि ग्राहकों को किफायती टैरिफ उपलब्ध कराना उसकी प्राथमिकता में शामिल है, लेकिन वित्तीय जरूरतों के साथ संतुलन भी जरूरी है, ताकि डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश जारी रखा जा सके। इससे उपभोक्ताओं को बेहतर गुणवत्ता की सेवा मिल सकेगी। वहीं, वोडाफोन-आइडिया का कहना है कि उपभोक्ताओं को विश्वस्तरीय डिजिटल अनुभव प्रदान करने के लिए वोडाफोन-आइडिया अपने टैरिफ में उचित बढ़ोतरी करने जा रहा है। कंपनी ने कहा कि मार्च 2020 तक देशभर में 4जी सेवा उपलब्ध कराने के लिए नेटवर्क कवरेज और क्षमता बढ़ाने पर काम हो रहा है।

Mobile-Tariff-Increase
वोडाफोन को पिछली तिमाही में हुआ बड़ा घाटा

भारत की दूसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन-आइडिया ने पिछले हफ्ते 50 921 करोड़ रुपए का सकल घाटा घोषित किया था। कपंनी को दूसरी तिमाही में यह घाटा हुआ। यह सुप्रीम कोर्ट के समायोजित कुल राजस्व यानि एजीआर संबंधी आदेश के बाद सितम्बर में खत्म हुई दूसरी तिमाही में किसी भी कारोबारी कंपनी को हुआ सबसे बड़ा घाटा था। बता दें, सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने सरकार के पक्ष में फैसला सुनाते हुए वोडाफोन-आइडिया सहित सभी टेलीकॉम कंपनियों को दूरसंचार विभाग को बकाया रकम का भुगतान करने के निर्देश दिए थे।

Read More: चिया बीज का सेवन कर मुहासों समेत कई स्किन समस्याओं से पाएं छुटकारा

टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) की जानकारी के अनुसार, जून 2016 से दिसम्बर, 2017 के बीच देश में मोबाइल डाटा की दरों में 95 फीसदी की गिरावट दर्ज की गईं। देश में अब मोबाइल डाटा 11.78 रुपए प्रति जीबी के औसत दाम में उपलब्ध है। मोबाइल कॉल की दरें भी 60 फीसदी गिरकर करीब 19 पैसे प्रति मिनट है।

COMMENT