हाईलाइट्स 2019: इस साल चर्चित रहे ये लोग, जानिए किस वजह से…

Views : 752  |  0 minutes read

वर्ष 2019 में देश की संसद, विभिन्न संस्थाओं के महत्वपूर्ण पदों पर कई लोगों को नियुक्त किया गया है। उन्हें इन बड़े पदों पर नई जिम्मेदारी निभाने का मौका मिला है। तो आइए जानते हैं, किसे कौनसा पद की जिम्मेदारी मिली हैं।

लोकसभा अध्यक्ष चुने ओम बिरला

देश के सबसे बड़े राज्य राजस्थान के कोटा सांसद ओम बिरला को 17वीं लोकसभा में 19 जून, 2019 को अध्यक्ष पद पर निर्विरोध चुने गए। ओम राजनीतिज्ञ होने के साथ ही समाजसेवी भी हैं। उनके नाम का प्रस्ताव खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया। गुजरात भूकंप के दौरान भी वो राहत कार्यों में जुटे थे।

नीति आयोग के उपाध्यक्ष

नीति आयोग के उपाध्यक्ष पद पर प्रसिद्ध अर्थशास्त्री डॉ राजीव कुमार का कार्यकाल एक बार फिर 6 जून, 2019 को बढ़ाया गया। उसके साथ ही वी के सास्वत, प्रोफेसर रमेश चंद और डाॅ वी के पाल की पूर्णकालिक सदस्यता बरकरार रहेंगी।

चीन ने नियुक्त किया सुन वीदोंग को भारत में राजदूत

भारत में चीन ने अपना नया राजदूत 12 जून, 2019 को राजनयिक सुन वीदोंग को नियुक्त किया है। वीदोंग को भारत के नए विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ निकटता से काम करने का अनुभव है। जयशंकर वर्ष 2009 से 2013 तक चीन में राजदूत रहे थे।

ऋषि कुमार शुक्ला बने सीबाआई निर्देशक

केंद्र सरकार ने केंद्रीय जांच ब्यूरो के निर्देशक पद पर 2 फरवरी, 2019 को ऋषि कुमार शुक्ला को नियुक्त किया। वह मध्य प्रदेश कैडर वर्ष 1983 बैच के भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) अधिकारी थे। ऋषि इससे पहले एमपी के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) रहे थे। वह इस पद पर आलोक कुमार वर्मा का स्थान लेंगे। उनकी नियुक्ति 2 वर्ष के लिए की गई है।

सोमा रॉय बर्मन बनी देश की 24वीं महालेखा नियंत्रक

सोमा रॉय बर्मन ने 1 दिसंबर, 2019 को देश के 24वें नियंत्रक एवं महा लेखा परीक्षक (कैग) के रूप में पदभार संभाला है। सोमा रॉय भारतीय लोक लेखा सेवा की वर्ष 1986 बैच की अधिकारी हैं। वह इस पद पर पहुंचने वाली 7वीं महिला हैं। इससे पहले वह अतिरिक्त महालेखा नियंत्रक के पद पर थीं।

शिवांगी स्वरूप

shivangi-swaroop

भारतीय नौसेना की सब लेफ्टिनेंट शिवांगी स्वरूप देश की पहली नौसेना महिला पायलट बन गईं। उन्हें 4 दिसंबर को नौसेना दिवस समारोह में बैज लगाया गया। वह बिहार की रहने वाली है। कोच्चि के नेवी बेस में नौसेना के शीर्ष अधिकारियों की उपस्थिति में उन्होंने अपनी ड्यूटी ज्वॉइन की। शिवांगी स्वरूप काेच्चि में नौसेना की ऑपरेशन ड्यूटी में शामिल होंगी और फिक्स्ड-विंग डाेर्नियर सर्विलांस विमान उड़ाएंगी।

सुंदर पिचाई

Sunder Pichai

भारतीय मूल के सुंदर पिचाई 4 दिसंबर 2019 को गूगल की पैरंट कंपनी अल्फाबेट के सीईओ बन गए हैं। तमिलनाडु में जन्में पिचई वर्ष 2004 से पिचई गूगल के साथ जुड़े हैं। बता दें कि पिचाई करीब 1.60 करोड़ रुपये प्रति घंटे कमाते है।

इन्हें मिली राज्यपाल की जिम्मेदारी

आनंदीबेन पटेल

गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल को 29 जुलाई, 2019 को उत्तर प्रदेश की राज्यपाल नियुक्त किया गया हैं। इससे पूर्व वह मध्य प्रदेश की गवर्नर पद पर थीं।

जगदीप धनखड़

पश्चिम बंगाल के नए राज्यपाल के रूप में 30 जुलाई, 2019 को नियुक्त किया गया है। उन्होंने केसरीनाथ त्रिपाठी का स्थान लिया।

रमेश बैस

पूर्व भाजपा सांसद रमेश बैस को त्रिपुरा का गवर्नर बनाया गया है। उन्होंने 29 जुलाई, 2019 को कार्यभार संभाल लिया।

लाल जी टंडन

बिहार के गवर्नर लाल जी टंडन को मध्य प्रदेश का गवर्नर बनाया गया है। उन्होंने 29 जुलाई, 2019 को कार्यभार संभाल लिया।

भगत सिंह कोश्यारी

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी को महाराष्ट्र के राज्यपाल नियुक्त करने की घोषणा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 1 सितंबर, 2019 को की। उन्होंने 5 सितंबर को कार्यभार संभाला।

सत्यपाल मलिक

जम्मू—कश्मीर के राज्यपाल रहे सत्यपाल मलिक को 25 अक्टूबर, 2019 को गोवा राज्य के गवर्नर नियुक्त किया है। उनसे पहले गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा थीं।

गिरीश चंद्र मुर्मू

जम्मू—कश्मीर से धारा 370 हटाकर उसे केंद्रशासित प्रदेश बनाने के बाद वहां पर 1 नवंबर से आईएएस अधिकारी गिरीश चंद्र मुर्मू (GC Murmu) को नए उपराज्यपाल नियुक्त किया।

राधाकृष्ण माथुर

नए केंद्रशासित प्रदेश लद्दाख के उपराज्यपाल के रूप में राधाकृष्ण माथुर को 31 अक्टूबर, 2019 को नियुक्त किया गया है। वह लद्दाख के पहले एलजी बने।

पीएस श्रीधरन पिल्लई

भारतीय जनता पार्टी के सदस्य पीएस श्रीधरन पिल्लई को 25 अक्टूबर, 2019 को मिजोरम का राज्यपाल नियुक्त किया गया।

COMMENT