राजस्थान में लगातार दूसरे दिन भी ओलावृष्टि, सीएम ने अफसरों को दिए निर्देश

Views : 1391  |  3 minutes read

राजस्थान में लगातार दूसरे दिन शुक्रवार को भी मौसम खराब रहा और कई जिलों में बारिश के साथ ओलावृष्टि भी हुई है। इधर राज्य के सीएम अशोक गहलोत ने इस मामले में चिंता व्यक्त कर प्रभावित जिलों में अतिशीघ्र गिरदावरी करवाने के ​संबंधित आला अधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

इन जिलों में हुई ओलावृष्टि

शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन प्रदेश में बारिश के साथ ओले गिरे। राज्य के सीकर,अलवर,दौसा,अजमेर,भरतपुर आदि जिलों में बारिश व ओलावृष्टि होने की खबर है और फसलों को नुकसान हुआ है।

ओलावृष्टि से इन फसलों को भारी नुकसान

गुरूवार व शुक्रवार को राजस्थान के कई जिलों में बारिश व काफी देर तक ओले गिरने से फसलें बर्बाद हो गई हैं जिससे किसानों को भारी नुकसान हुआ है। फसलों में गेंहू,जौ,चने,मैथी व सरसों को अधिक नुकसान की आशंका जताई जा रही है।

Read More: कोरोना से हडकंप: राजस्थान के इन जिलों में घूमे इटली पर्यटक, होटलों के कमरे सील

सीएम गहलोत ने जताई चिंता,दिए ये निर्देश

इधर ओलावृष्टि से फसलों को हुए नुकसान पर राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चिंता व्यक्त की है। गहलोत ने इस मामले में गुरूवार को आला अधिकारियों की मीटिंग लेकर प्रभावित जिलों में अति शीघ्र गिरदावरी करवाने के निर्देश दिए हैं जिससे पीड़ित किसानों को समय पर मुआवजा मिल सके। सीएम ने यह भी कहा है कि प्रभावित किसानों की हर संभव मदद की जाएगी।

जयपुर में मार्च माह में कई साल बाद ऐसी बारिश

इधर मौसम विभाग के अनुसार मार्च के महीने में राजधानी जयपुर में ऐसी बारिश कई वर्षों बाद देखने को मिली है। इससे पहले 2015 मार्च में 35 मिमी बारिश हुई थी और गुरूवार को लगभग 16 मिमी बारिश दर्ज की गई।

भाजपा अध्यक्ष पूनिया ने उठाई मांग

इधर बारिश व ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों की मदद के लिए भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनिया ने सरकार से इस संबंध में शीघ्र गिरदावरी करवा कर उचित मुआवजे की मांग की है। पूनिया ने मीडिया से यह भी कहा कि भाजपा ने सदन में गिरदावरी व ओलावृष्टि से सम्बन्धित प्रश्न भी पूछा था जिसका राज्य सरकार ने ढंग से जवाब नहीं दिया था।

COMMENT