केंद्र सरकार ने तेजी से टीकाकरण के लिए ज्यादा से ज्यादा प्राइवेट सेंटर स्थापित करने का दिया आदेश

Views : 2255  |  3 minutes read
Corona-Vaccination-India-

देश में कोरोना महामारी से एक बार फिर बिगड़ते हालातों के बीच केंद्र सरकार ने तेजी से टीकाकरण को लेकर जरूरी फैसले लिए हैं। केंद्र सरकार ने चौथे चरण का कोरोना टीकाकरण शुरू करने से पहले ज्यादा से ज्यादा प्राइवेट सेंटर स्थापित करने का आदेश दिया है। शनिवार को हुई बैठक में केंद्र ने सभी राज्यों से कहा कि वे आगामी एक मई से शुरू होने वाले वैक्सीनेशन से पहले अपनी तैयारी पूरी कर लें। देश में 18 से 45 वर्ष की आयु के लोगों के लिए टीकाकरण जल्द से जल्द पूरा करना जरूरी है। इसके लिए ज्यादा से ज्यादा सेंटर स्थापित होने चाहिए। इस दौरान राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए नई टीकाकरण रणनीति के लिए दिशा-निर्देश भी जारी किए। बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों से कहा है कि वे मिशन मोड पर आकर टीकाकरण की तैयारियों में जुट जाएं।

18 वर्ष से अधिक उम्र के लोग 28 अप्रैल से करा सकेंगे पंजीयन

आपको बता दें, केंद्र सरकार ने कहा है कि आगामी 28 अप्रैल से 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए पंजीयन की सुविधा शुरू हो जाएगी। इससे पहले नए बनाए जा रहे केंद्रों का काम पूरा करने के बाद उनकी सूची कोविन वेबसाइट पर अपलोड करने के लिए उपलब्ध कराएं। साथ ही उन अस्पतालों पर नजर रखने के लिए कहा है जिन्होंने वैक्सीन की खरीदी सीधे फॉर्मा कंपनी से की है और इसके सर्विस चॉर्ज को लेकर अपनी कीमत स्पष्ट की है। केंद्र सरकार ने अपने निर्देश में कहा है कि टीकाकरण स्लॉट के साथ-साथ पात्र लोगों के लिए टीकाकरण शेड्यूल करना होगा। उन्हें टीकों की प्रत्यक्ष खरीद के संबंध में निर्णय को प्राथमिकता देनी होगी। केंद्र ने उन्हें 18-45 वर्ष आयु वर्ग के लिए केवल ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा के बारे में बताने के लिए कहा है। इसके साथ-साथ केंद्र ने और भी कई दिशा-निर्देश दिए हैं।

कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए सरकार ने लिया फैसला

मालूम हो कि केंद्र सरकार ने 1 मई से 18 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण कराने का फैसला लिया है। फिलहाल देश में 45 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन किया जा रहा है, लेकिन यहां कोरोना के लगातार बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मोदी सरकार को आनन-फानन में 18 साल से अधिक उम्र वालों के लिए भी टीकाकरण शुरू करने का फैसला लेना पड़ा है।

Read More: ‘एक राष्ट्र’ के रूप में काम करेंगे तो संसाधनों का कोई अभाव नहीं होगाः पीएम मोदी

COMMENT