गूगल के जीमेल से 18 महीने बाद अपने आप डिलीट हो जाएगा डाटा, कंपनी ने की ये नई घोषणाएं

Views : 1454  |  3 minutes read
Google-IO-Announcements

अमेरिकी बहुराष्ट्रीय तकनीकी कंपनी गूगल ने अपने सालाना टेक इवेंट गूगल आईओ में मंगलवार को कई नई घोषणाएं की। इसमें गूगल के जीमेल से 18 महीने बाद डाटा अपने आप डिलीट हो जाएगा। वहीं, गूगल फोन स्क्रीन और ऐप के रंग और डिजाइन बदलने के विकल्प से लेकर कार अनलॉक करने की सुविधा तक अपने स्मार्टफोन ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्रायड के नए प्रारूप एंड्रायड-12 में देने जा रहा है। इसके अलावा फेक न्यूज के लिए सर्च में अलर्ट भी देने वाला है। गूगल सर्च रिजल्ट के साथ सोर्स साइट की जानकारी 3 डॉट पर क्लिक करने पर देगा। शुरुआत में यह फीचर अंग्रेजी के लिए होगा, लेकिन धीरे-धीरे अन्य भाषाओं में दिया जाएगा।

फोन से कार लॉक-अनलॉक कर सकेंगे, गूगल मैप में भी बदलाव

गूगल कंपनी के सीईओ सुंदर पिचाई ने बताया कि फोन और ऐप में पसंद के कलर और डिजाइन बदलने को मेटेरियल-यू फीचर नाम दिया गया है। उन्होंने कहा कि यूजर इंटरफेस में मनमर्जी के रंग भरे जा सकेंगे। इसके अलावा विजेट्स को रीडिजाइन किया गया है। वहीं, फोन के जरिए बीएमडब्ल्यू जैसी कार के मालिक अपनी कार भी लॉक या अनलॉक कर पाएंगे। कंपनी कई अन्य कार कंपनियों से भी इस की-लेस फीचर के लिए बात कर रही है। पिचाई ने बताया कि गूगल मैप मौसम को समझते हुए आगाह करेगा, इससे सड़क हादसे रोकने में मदद मिलेगी। मैप पर ऑग्मेंटेड रियलिटी के जरिए सड़क यातायात के संकेत मिलेंगे और इमारतों के भीतर भी गूगल मैप मदद करेगा।

गूगल सर्च को 75 भाषाओं में सर्च करने योग्य बनाया जा रहा

सुंदर पिचाई ने बताया कि जीमेल पर करीब 200 करोड़ एक्टिव अकाउंट है। उन्होंने यूजर्स की निजता की सुरक्षा का तर्क देकर कहा कि 18 महीने में जीमेल का कंटेंट डिलीट करने की गूगल ने नई नीति बनाई है। इसके साथ ही गूगल सर्च में 15 मिनट की हिस्ट्री डिलीट करने का विकल्प दिया जाएगा। गूगल सर्च को तेज करने के लिए इसे 75 भाषाओं में काम करते हुए फोटो, इमेज व वीडियो आदि मिलाकर सर्च करने योग्य बनाने पर काम किया जा रहा है।

300 करोड़ सक्रिय एंड्रॉयड डिवाइस में इस्तेमाल हो रहा एंड्रॉयड

गूगल ने अपने आईओ इवेंट में बताया कि आज एंड्रॉयड दुनिया के 300 करोड़ सक्रिय एंड्रॉयड डिवाइस में इस्तेमाल हो रहा है। कंपनी ने बताया कि एंड्रॉयड-12 में सीपीयू 22 प्रतिशत कम उपयोग होगा। फोन को ज्यादा सुरक्षित बनाने के लिए डैश बोर्ड से यह परमिशन दी जा सकेगी। इसके अलावा कैमरा और माइक्रोफोन उपयोग करने जैसी संवेदनशील अनुमति को भी आसानी से सभी ऐप के लिए बदला जा सकेगा। बता दें कि गूगल जल्द ही नया स्मार्टफोन समेत कई गैजेट बाजार में लॉन्च करने वाला है।

Read More: गूगल जल्द ही कुछ देशों में जारी करेगा भूकंप के अलर्ट का फीचर

COMMENT