कोरोना महामारी के बीच रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचा सोना, निवेश हो सकता है फायदेमंद

Views : 1245  |  3 minutes read
Gold-Market

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संकट के बीच घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया है। भारतीय बाजार में 24 कैरेट गोल्ड ने प्रति 10 ग्राम 48,300 रुपए का नया रिकॉर्ड बनाया है। हाल में निवेशकों और एक्सपर्ट ने कोरोना संकट के इस दौर में गोल्ड को ही निवेश के लिए सबसे सुरक्षित माना। उनका कहना था कि इस महामारी के बीच सोना में निवेश करना अच्छा रिटर्न दिला सकता है। अब अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने की लगातार बढ़ रही कीमतें भी इस ओर इशारा कर रही हैं।

24 कैरेट गोल्ड प्रति 10 ग्राम 48 हजार के पार

इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन की एक वेबसाइट के मुताबिक, 24 कैरेट गोल्ड ने प्रति 10 ग्राम 48,300 रुपए का नया रिकॉर्ड बनाया है। 23 कैरेट सोने का भाव भी 645 रुपए बढ़कर 48,107 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया है। वहीं, 22 कैरेट सोने का मूल्य अब 593 रुपए तेज होकर 44,243 रुपये और 18 कैरेट का भाव 36,225 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है। सोने के अलावा चांदी में भी 966 रुपए की तेजी देखी गई है।

जानकारी के अनुसार, अंतरराष्ट्रीय हाजिर बाजार में सोना 0.5 फीसदी उछलकर 1751.63 डॉलर प्रति औंस तक पहुंच गया। आपको बता दें कि इसके पहले सोने ने रिकॉर्ड उंचाई 18 मई को हासिल की थी। इसी तरह अमेरिकी वायदा बाजार में सोना 1,764.50 डॉलर प्रति औंस के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। गलवान घाटी में भारत-चीन तनाव और हांगकांग के माहौल का भी अंतरराष्ट्रीय कमोडिटी बाजारों पर असर पड़ा है।

150 अरब डॉलर का बाजार पूंजीकरण वाली पहली भारतीय कंपनी बनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड

इसलिए लगातार बढ़ रही है सोने की कीमतें

आर्थिक संकट के दौर में सोना हमेशा से ही अपनी चमक बिखेरता रहा है। कीमतों में बढ़ोतरी के साथ-साथ सोने में निवेश का दायरा बढ़ता जा रहा है। कोरोना महामारी संकट की वजह से सोने में निवेश को सुरक्षित विकल्प के तौर पर देखा जा रहा है। शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव के बीच मई में गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड में 815 करोड़ रुपए का निवेश आया। इसकी वजह यह है कि निवेशक अब निवेश के सुरक्षित विकल्पों की ओर रुख कर रहे हैं।

COMMENT