दीपिका कुमारी ने तीरंदाजी विश्वकप में गोल्ड जीतने के साथ ही रचा इतिहास

Views : 1741  |  3 minutes read
Deepika-Kumari-Record

भारत की स्टार महिला तीरंदाज दीपिका कुमारी ने इतिहास रच दिया। उन्होंने पेरिस में चल रहे तीरंदाजी विश्वकप स्टेज 3 में रिकर्व व्यक्तिगत स्पर्धा को 6-0 से जीतकर स्वर्ण पदक के साथ अपनी हैट्रिक पूरी। इस शानदार जीत के साथ ही दीपिका दुनिया की नंबर एक महिला तीरंदाज बन गई हैं। विश्व तीरंदाजी ने सोमवार को अपनी ताजा रैंकिंग जारी की, जिसमें भारत की दीपिका कुमारी को पहला स्थान मिला। आपको जानकारी के लिए बता दें कि दीपिका ने दूसरी बार तीरंदाजी में यह उपलब्धि अपने नाम की है।

अपने पति के साथ ओलंपिक से स्वर्ण पदक लाएगी: परिवार

सोमवार को विश्व तीरंदाजी की तरफ से आधिकारिक ट्वीट कर कहा, ‘दीपिका कुमारी ने विश्व तीरंदाजी में पहली रैंक हासिल कर ली है। दीपिका कुमारी ने पहले अंकिता भगत और कोमालिका बारी के साथ महिला रिकर्व टीम स्पर्धा में मैक्सिको को आसानी से हराकर स्वर्ण पदक जीता।’

वहीं, दीपिका के तीरंदाजी विश्व कप में तीन स्वर्ण पदक जीतने और विश्व रैंकिंग में पहला स्थान हासिल करने पर उनके पिता ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा, ‘हम दीपिका की इस उपलब्धि से बहुत खुश हैं, उसका अगला लक्ष्य ओलंपिक में मेडल हासिल करना है, हम उम्मीद करते हैं कि वह अपने पति के साथ ओलंपिक से स्वर्ण पदक लाएगी।

पिछड़ने के बाद पति के साथ मिलकर जीता स्वर्ण पदक

बता दें कि दीपिका कुमारी ने अपने पति अतानू दास के साथ खेल में 0-2 से पिछड़ने के बाद नीदरलैंड के सेफ वान डेन और गैब्रिएला की जोड़ी को 5-3 के अंतर से हराते हुए स्वर्ण पदक पर निशाना लगाया। इसके बाद दीपिका ने रूस की 17वीं रैंक प्राप्त एलिना ओसीपोवा को 6-0 के अंतर से हराकर एक और गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। दीपिका के अबतक के ​कॅरियर की बात करें तो उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 9 स्वर्ण, 12 रजत और 7 कांस्य पदक जीतने में सफल रही हैं।

Read More: दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी कैरोलिना मारिन टोक्यो ओलंपिक से हटीं, जानें वजह…

गौरतलब है कि झारखंड की राजधानी रांची की रहने वाली 27 वर्षीया दीपिका कुमारी ने वर्ष 2012 में पहली बार तीरंदाजी में शीर्ष स्थान हासिल किया था। पिछले दिन 27 जून, रविवार को दीपिका ने व्यक्तिगत और मिश्रित स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम किए हैं।

COMMENT