भारत में टेलीकॉम ग्राहक किसी भी कंपनी की सेवा से संतुष्ट नहीं हैं: ट्राई रिपोर्ट

Views : 1852  |  3 minutes read
Network-Problems-India-TRAI

भारत में टेलीकॉम कंपनियां हर दिन भले ही अपनी सेवाओं को लेकर तमाम बड़े-बड़े दावे करती हैं, लेकिन ये दावे हकीकत से कोसों दूर हैं। भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण यानि ट्राई की ताज़ा रिपोर्ट के मुताबिक भारत में टेलीकॉम ग्राहक किसी भी कंपनी की सेवा से संतुष्ट नहीं हैं। अगर वॉयस क्वालिटी की बात करें तो भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के ग्राहक सबसे ज्यादा संतुष्ट हैं।

ट्राई के नए डाटा में कॉलिंग के मामले में BSNL को 3.4/5 की रेटिंग मिली है, जबकि इसी मामले में जियो और वोडाफोन को 3.3 की रेटिंग मिली है। बीएसएनएल की रेटिंग के लिए कुल 2,014 सैंपल का इस्तेमाल किया गया है, जबकि जियो की सैंपल साइज 10,292 और वोडाफोन का सैंपल 3,408 रहा है। एयरटेल को 9,520 सैंपल के जरिए 3.0 और आईडिया को 977 सैंपल के साथ 2.9 की रेटिंग मिली है।

हर दिन करीब 14,208 लोगों ने एमएनपी कराया

रिपोर्ट के मुताबिक मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी (एमएनपी) के मामले में 1 जनवरी से 31 अगस्त, 2020 तक हर दिन करीब 14,208 लोगों ने मौजूदा टेलीकॉम कंपनियों की सेवाओं से परेशान होकर एमएनपी कराया है। केवल अगस्त महीने में 7.9 लाख यानि हर दिन 26,333 ग्राहकों मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के लिए अप्लाई किया। इससे साफ पता चलता है कि देश के में टेलीकॉम ग्राहक किसी भी कंपनी की सेवा से संतुष्ट नहीं हैं।

जियो की वाइस कॉल की गुणवत्ता बेहद खराब रही

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि माय कॉल एप पर सितंबर माह में 294 लोगों ने फीडबैक दिया था। इसमें 17.1 फीसदी ने कॉल ड्रॉप होने की शिकायत की। वहीं, 13.27 फीसदी लोगों ने कहा कि बातचीत के दौरान वाइस की गुणवत्ता बेहद खराब रही। फीडबैक देने वालों में 57.8 फीसदी ग्राहक रिलायंस जियो के थे, जबकि 20.4 फीसदी ग्राहक बीएसएनएल, 13.6 फीसदी ग्राहक एयरटेल और 8.1 फीसदी ग्राहक वोडाफोन-आइडिया के थे। गौरतलब है कि ट्राई ने देश में टेलीकॉम ग्राहकों से सीधे फीडबैक लेने के लिए मायकॉल एप बनाया है। ये सभी आंकड़े भी इसी एप के हैं।

Read More: ट्राई ने मैसेज की लिमिट खत्म की, अनगिनत मैसेज भेज सकते हैं मोबाइल यूजर्स

COMMENT