जुलाई-अगस्त में कोरोना के भयंकर मामले आने का दावा, महाराष्ट्र पर फिर आएगा संकट

Views : 686  |  3 minutes read
Maharashtra-Govt-Claims

भारत में कोराना संक्रमण की दूसरी लहर में मामलों की संख्या में हर दिन बढ़ोतरी हो रही है। देश में रोजाना चार लाख के करीब संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं, जिनमें से सबसे ज्यादा महाराष्ट्र से आते हैं। यहां हर रोज 60 हजार से ज्यादा नए केस सामने आ रहे हैं। इसी बीच राज्य में कोरोना की तीसरी लहर आने का भी दावा किया गया है।महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि जुलाई-अगस्त में कोरोना की तीसरी लहर तबाही मचा सकती है। राज्य में तीसरी लहर का दावा राज्य सरकार की ओर से गठित टास्क फोर्स ने विशेषज्ञों से बातचीत के आधार पर किया है। हालांकि, कोरोना के मामलों में गिरावट मई के अंत तक शुरू हो जाएगी, लेकिन जुलाई-अगस्त में यह फिर अपना विकराल रूप धारण करेगा जो महाराष्ट्र में इसकी तीसरी लहर होगी।

मेडिकल उपकरणों की व्यवस्था पहले ही करने के दिए निर्देश

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को कोरोना के हालातों पर बैठक की थी। इस बैठक में उन्होंने स्पष्ट से सभी को तीसरी लहर के लिए तैयार रहने को कहा है। साथ ही बुनियादी मेडिकल उपकरणों की व्यवस्था पहले ही करने के निर्देश दिए। बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में हमें आत्मनिर्भर बनना होगा, खासकर ऑक्सीजन आपूर्ति के मामले में। जुलाई तक स्थानीय प्रशासन के पास ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में होने के निर्देश दिए गए हैं। इसके लिए 125 पीएसए (प्रेशर स्विंग एबॉर्शन (PSA) तकनीक प्लांट लगाने के आदेश जारी किए गए हैं और अगले 10 दिनों में राज्य भर में प्लांट लगने शुरू हो जाएंगे।

जानकारी के अनुसार, महाराष्ट्र में कई जगहों पर फिलहाल वैक्सीनेशन अभियान फिर से रुक गया है। बताया जा रहा है कि कई जिलों में वैक्सीन नहीं होने की वजह से लोग केंद्रों से खाली लौट रहे हैं। हालांकि वैक्सीन कमी की आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।

राज्य सरकार ने अब 15 मई तक बढ़ाई पाबंदियां

जानकारी के लिए बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। गुरुवार को महाराष्ट्र में 66,159 नए मामले सामने आए थे। वहीं, एक दिन में 771 लोगों की मौत हुई। इस तरह के हालातों को देखते हुए महाराष्ट्र की सरकार ने एक बार फिर लॉकडाउन जैसी पाबंदियां 15 मई तक के लिए बढ़ा दी है।

Read: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने नई कोरोना गाइडलाइंस जारी की, पूरे देश में सख्ती लागू करने पर जोर

COMMENT