भारत में एक बार फिर बढ़ने लगे कोरोना संक्रमण के मामले, 24 घंटे में हुई 500 से ज्यादा मौतें

Views : 1431  |  3 minutes read
Corona-Active-Cases-India

देश में कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर बढ़ते दिख रहे हैं। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच गुरुवार को दो महीने बाद सबसे अधिक संक्रमण के मामले सामने आए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 47,092 नए मामले आए, जबकि 509 लोगों की इससे मौत हो गई। वहीं, 35,181 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट गए। मंत्रालय की जानकारी के मुताबिक, भारत में कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या 3,89,583 है। जबकि देश में अबतक कुल मृतकों की संख्या की बात करें तो यह 4,39,529 हो गई है। वहीं कुल 3,20,28,825 मरीज स्वस्थ होकर लौट चुके हैं।

कोरोना के बढ़ते मामलों ने भारत सरकार की चिंता बढ़ाई

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, इससे पहले बुधवार को बीते 24 घंटे में कोरोना के 41,965 नए मामले आए थे, जबकि 460 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं, 33,964 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट गए थे। देश में कोरोना के मामले में एक बार फिर वृद्धि होती दिख रही है, जिसने लोगों के साथ ही सरकार की चिंता बढ़ा दी है। केंद्र ने राज्यों को त्यौहार के मौसम में सावधान रहने के लिए कहा है एवं कोरोना नियमों का सख्ती से पालन करवाने को कहा है।

केरल में कोरोना के सर्वाधिक एक्टिव मामले

कोरोना के एक्टिव मामलों की बात करें तो देश में सर्वाधिक एक्टिव मामले फिलहाल केरल में हैं, ​जहां एक लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। केरल में गुरुवार के आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घंटे में कोरोना के 32,803 मामले सामने आए और इससे 173 लोगों की मौत हो गई। आपको जानकारी के लिए बता दें कि भारत के दो राज्य केरल और महाराष्ट्र में अभी सबसे अधिक कोरोना पॉजिटिविटी रेट है। केरल के सात जिले (एर्नाकुलम, त्रिशूर, कोझीकोड, पलक्कड़, कोल्लम और कोट्टायम) में रोजाना दो हजार से अधिक केस सामने आ रहे हैं।

66 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज लगाई गईं

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी कि एक सितंबर तक देशभर में 66 करोड़ 30 लाख 37 हजार कोरोना वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी हैं। पिछले दिन ही 81.09 लाख टीके लगाए गए। वहीं आईसीएमआर के अनुसार देश में अबतक 52 करोड़ 50 लाख कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं। बुधवार को करीब 20 लाख कोविड सैंपल टेस्ट किए गए, जिसमें पॉजिटिविटी दर चार फीसदी से भी कम आईं।

Read Also: देश के तीन राज्यों में हर वयस्क को लगी कोरोना वैक्सीन की पहली डोज

COMMENT