पश्चिम बंगाल में शुरुआती दो चरण के लिए भाजपा ने 22 अतिरिक्त नेताओं को उतारा

Views : 1818  |  3 minutes read
West-Bengal-Election-BJP

पश्चिम बंगाल में इस बार आठ चरणों में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं, जिसमें प्रथम चरण का मतदान इसी माह के अंत में होगा। सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (TMC) जहां एक बार फिर सत्ता में आकर हैट्रिक लगाना चाहती है, वहीं भारतीय जनता पार्टी (BJP) सत्ता पर काबिज होने के लिए जी-तोड़ कोशिश कर रही है। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पहले दो चरणों के लिए भाजपा ने गुरुवार को जमीनी स्तर पर काम करने के लिए देश के विभिन्न हिस्सों से अतिरिक्त 22 नेताओं को उतारा है, ताकि पार्टी के लिए लोगों की भावनाएं वोट में परिवर्तित हो जाएं।

बिना किसी डर के मतदान केंद्र पहुंच पाएं वोटर्स

जानकारी के अनुसार, भारतीय जनता पार्टी ने अपने इन 22 नेताओं को जमीनी स्तर की टीम में जोड़ा गया है, ताकि मतदाता बिना किसी डर के मतदान केंद्रों तक पहुंच सकें। हालांकि, ये सभी नेता पहले से ही इस आधार पर काम कर रहे हैं। हाल ही में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने इन 22 नेताओं से मुलाकात की थी, जिसमें अरविंद लिंबावली, नितिन नवीन, राधा मोहन सिंह, प्रवेश वर्मा, रमेश बिधुरी, विनोद तावड़े, मंगल पांडे, शंकर चौधरी, विनय सहस्त्रबुद्धे, निशिकांत दुबे, प्रदीप सिंह वाघेला जैसे भाजपा नेता शामिल थे।

9 केंद्रीय मंत्री भी पश्चिम बंगाल में तैनात किए

गौरतलब है कि भाजपा ने सात केंद्रीय मंत्रियों की एक टीम के अलावा, दो केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और आरके सिंह को भी राज्य में तैनात कर दिया है। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी ने बंगाल में विधानसभा चुनाव के पहले दो चरणों के लिए अपने 60 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की है। आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में चुनाव 27 मार्च से 29 अप्रैल तक आठ चरणों में होंगे। यह राज्य में अब तक का सबसे लंबा चुनाव कार्यक्रम है। बंगाल समेत सभी पांच राज्यों में होने जा रहे विधानसभा चुनावों के परिणाम दो मई को घोषित किए जाएंगे।

Read: पश्चिम बंगाल की जॉयपुर सीट से TMC उम्मीदवार उज्जवल कुमार का रद्द हुआ नामांकन

COMMENT