बिगबास्केट के दो करोड़ कस्टूमर्स का डाटा हुआ लीक, लाखों में बेचने का आरोप

Views : 727  |  3 minutes read
BigBasket-Data-Leak

ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर बिगबास्केट से सामान खरीदने वाले करोड़ों ग्राहकों के लिए बुरी ख़बर है। जानकारी के अनुसार, सुपरमार्केट बिगबास्केट के डाटा में सेंध लग गई है। साइबर इंटेलिजेंस कंपनी साबइल की हालिया एक रिपोर्ट के मुताबिक, डाटा में सेंध से बिगबास्केट के करीब दो करोड़ यूजर्स का निजी डाटा लीक हो गया है। कंपनी ने इस संबंध में बंगलूरू में साइबर क्राइम सेल में अपनी शिकायत दर्ज करा दी है।

30 लाख रुपये में बिक्री के लिए रखा डाटा: रिपोर्ट

साबइल ने अपनी एक ताज़ा रिपोर्ट में कहा है कि एक हैकर ने कथित रूप से बिगबास्केट के डाटा को 30 लाख रुपये में बिक्री के लिए रखा है। साइबर इंटेलिजेंस कंपनी साइबल ने अपने ब्लॉग में कहा कि डार्क वेब की नियमित निगरानी के दौरान साबइल की रिसर्च टीम ने पाया कि साइबर अपराध बाजार में बिगबास्केट का डाटाबेस 40,000 डॉलर में बेचा जा रहा है। बताया गया कि एसक्यूएल फाइल का आकार करीब 15 जीबी है, जिसमें करीब दो करोड़ ग्राहकों का डाटा है। रिपोर्ट के अनुसार, इस डाटा में नाम, ई-मेल आईडी, पासवर्ड, संपर्क नंबर (मोबाइल फोन और फोन, पता, जन्मतिथि, स्थान और आईपी पता शामिल हैं।

दावे की सत्यता की पुष्टि कर रही बिगबास्केट

साइबल ने अपनी रिपोर्ट में पासवर्ड का उल्लेख किया है। वहीं, ग्रोसरी कंपनी बिगबास्केट वन-टाइम पासवर्ड का इस्तेमाल करती है, जो प्रत्येक बार लॉग इन में बदलता है। बिगबास्केट ने अपने एक बयान में कहा, ‘कुछ दिन पहले हमें संभावित डाटा सेंध की जानकारी मिली है। हम इसका आकलन तथा दावे की सत्यता की पुष्टि करने का प्रयास कर रहे हैं। इस बारे में हमने बंगलूरू के साइबर क्राइम सेल में शिकायत दर्ज करा दी है।’

Read More: वॉट्सऐप ने अपडेटेड स्टोरेज मैनेजमेंट टूल को किया लॉन्च, यूजर्स को होंगे ये फायदे

जानकारी के लिए बता दें कि इंटरनेट की दुनिया तीन प्रकार की होती है, जो कि सरफेस वेब, डीप वेब और डार्क वेब के रूप में हैं। इनमें से डार्क वेब इंटरनेट की दुनिया का सबसे खतरनाक हिस्सा माना जाता है।

COMMENT