दिल्ली चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका, ये नेता बीजेपी में हुए शामिल

Views : 2734  |  3 minutes read
AAP-and-BJP

दिल्ली विधानसभा चुनाव होने में अब मात्र 21 दिन यानि तीन सप्ताह का समय शेष रह गया है। सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (आप) सबसे पहले अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर चुकी है। वहीं, बीजेपी और कांग्रेस जैसे प्रमुख राजनीतिक दल अभी तक अपने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी नहीं कर पाए हैं। इसी बीच जो खबर आई है वो बीजेपी को राहत देने वाली और आप के लिए करारा झटका है। आम आदमी पार्टी के कई नेताओं ने गुरुवार को पार्टी छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है। अन्ना हजारे के आंदोलन में शामिल रहे आप के कई नेता व कार्यकर्ता बीजेपी में शामिल हो गए।

इन नेताओं ने छोड़ा आम आदमी पार्टी का साथ

आम आदमी पार्टी के नेता करण सिंह, सरोज गोपाल, रवि सोनकर, विरेंद्र गौड़, अमित श्रीवास्तव, पंकज तोमर सहित कई अन्य लोगों ने आप को छोड़ कर बीजेपी की सदस्यता ली। प्रदेश बीजेपी कार्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री व दिल्ली के चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर, राज्यसभा सदस्य विजय गोयल व प्रदेश बीजेपी उपाध्यक्ष शाजिया इल्मी ने इन नेताओं के सदस्यता ग्रहण करने पर स्वागत किया।

पार्टी के प्रदेश चुनाव प्रभारी जावड़ेकर ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने अन्ना हजारे के मूल सिद्धांतों को नजरअंदाज करके दिल्ली को पांच साल तक ठगने का काम किया है। अन्ना नहीं चाहते थे कि कोई राजनीतिक दल बने, लेकिन केजरीवाल ने अपने निजी स्वार्थों और राजनीति में आने के लिए नई पार्टी बनाई।

Read More: एमएस धोनी बीसीसीआई के कॉन्ट्रैक्ट से बाहर, जानिए सभी खिलाड़ियों की नई ग्रेड

केजरीवाल की नज़र में बिहार-यूपी के लोग घुसपैठिया

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि अरविंद केजरीवाल उत्तर प्रदेश व बिहार से आए लोगों को घुसपैठिया समझते हैं, इसलिए कहते हैं कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर लागू होने पर मनोज तिवारी को दिल्ली से बाहर जाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि सीएए नागरिकता छीनने के लिए नहीं है, बल्कि पाकिस्तान, बांग्लादेश व अफगानिस्तान से प्रताडि़त होकर आए शरणार्थियों को नागरिकता देने का कानून है। यह कानून देश के किसी भी नागरिक को प्रभावित नहीं करता है, इससे किसी को भी डरने की जरूरत नहीं है।

 

COMMENT