देश में दिसंबर तक कोरोना टीके की 216 करोड़ खुराक उपलब्ध होंगी: केंद्र सरकार

Views : 1853  |  3 minutes read
Corona-Doses-Availability-India

भारत में कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के बीच राज्य कोविड टीकों की कमी से जूझ रहे हैं। इसी बीच एक राहत भरी खबर आई है। केंद्र सरकार ने गुरुवार को कहा कि देश में अगस्त से दिसंबर के बीच पांच महीनों में कोरोना की दो अरब से अधिक खुराक उपलब्ध कराई जाएंगी, जो पूरी आबादी का टीकाकरण करने के लिए पर्याप्त हैं। सरकार ने यह भी कहा कि रूस का कोविड-19 रोधी टीका स्पुतनिक-वी अगले सप्ताह तक उपलब्ध होने की संभावना है। नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने कहा कि लोगों के लिए देश में पांच महीनों में दो अरब खुराक (216 करोड़) बनाई जाएंगी। भारत में कोरोना टीका सभी के लिए उपलब्ध होगा। उन्होंने कहा कि अगले साल की प्रथम तिमाही तक यह संख्या तीन अरब होने की संभावना है।

अलग-अलग कंपनियां बनाएंगी कोरोना की ये खुराकें

नीति आयोग के सदस्य पॉल ने कहा कि अगस्त से दिसंबर के बीच कोविशील्ड की 75 करोड़ खुराक का उत्पादन अनुमानित है, जबकि कोवाक्सिन की 55 करोड़ खुराक तैयार की जाएंगी। इसके अलावा बायोलॉजिकल ई द्वारा 30 करोड़ खुराक, जायडस कैडिला 5 करोड़, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा नोवावैक्स की 20 करोड़ खुराक और भारत बायोटेक द्वारा उसकी नेजल वैक्सीन की 10 करोड़ खुराकें, जबकि जेनोवा 6 करोड़ खुराक और स्पुतनिक-वी 15.6 करोड़ खुराक उपलब्ध कराएंगी। डॉ. वीके पॉल ने यह भी कहा कि इनके अलावा देश में दूसरी विदेशी वैक्सीन भी आ सकती हैं।

वैक्सीन उत्पादन में दूसरी कंपनी की मदद पर सहमति

नीति आयोग सदस्य डॉ. पॉल ने कहा कि मैं यह बताते हुए खुशी महसूस कर रहा हूं कि कोवाक्सिन की निर्माता कंपनी भारत बायोटेक ने कोरोना वैक्सीन उत्पादन में दूसरी कंपनी की मदद लेने के लिए अपनी सहमति दे दी है। आपको बता दें कि कोरोना वैक्सीन का निर्माण सिर्फ बीएसएल3 लैब में किया जा सकता है।

187 जिलों में दो सप्ताह से मामलों में दिख रही कमी

इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने जानकारी दी कि देश में पिछले कुछ दिनों से कोरोना के नए मालमों में गिरावट दर्ज की गई है। यहां 20 राज्यों सहित 187 जिलों में पिछले दो सप्ताह से कोरोना मामलों में कमी देखी जा रही है। उन्होंने बताया कि 24 राज्य ऐसे हैं जहां 15 फीसदी से अधिक पॉजिटिव केस हैं। देश में 5 फीसदी से लेकर 15 फीसदी के बीच केस वाले 8 राज्य हैं, वहीं 4 राज्य ऐसे हैं जहां कोरोना संक्रमण का 5 फीसदी से भी कम पॉजिटिविटी रेट है।

Read: मोदी सरकार इस दिन किसानों के खाते में डालेगी सम्मान निधि योजना की आठवीं किस्त

COMMENT