कोरोना में देशवासी जिस तकलीफों से गुजर रहे, मुझे उसका एहसास है: पीएम मोदी

Views : 1110  |  3 minutes read
PM Modi-Statement

भारत में कोरोना महामारी की दूसरी लहर का कहर लगातार जारी है। इसी बीच देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देश के साढ़े नौ करोड़ से ज्यादा किसानों के खातों में 19,000 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि ट्रांसफर की। इस दौरान पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किसानों को संबोधित किया और कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हिम्मत रखने को भी कहा। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी देश का एक अदृश्य दुश्मन है, जो बहरुपिया भी है, इससे हम सबको मिलकर लड़ना होगा। उन्होंने कहा कि भारत हार ना मानने वाला देश है और मुझे पूरा यकीन है कि इस महामारी का डटकर सामना करेगा। कोरोना परीक्षा ले रहा है, लेकिन हम हारेंगे नहीं।

सभी गतिरोधों को दूर करने में जुटी हुई है सरकार

पीएम मोदी ने कहा कि इस महामारी के दौरान देशवासी जिस तकलीफों से गुजर रहे हैं, मुझे उसका एहसास है। उन्होंने कहा कि सरकार सभी गतिरोधों को दूर करने में जुटी हुई है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बीते कुछ समय से जो कष्ट देशवासियो ने सहा है, अनेको लोग जिस दर्द से गुजरे है, तकलीफ से गुजरे है वो मैं भी उतना ही महसूस कर रहा हूं। इसके अलावा उन्होंने जानकारी दी कि देश में ऑक्सीजन प्लांट लग रहे हैं और जल्द ही हालात पर काबू पा लिया जाएगा। पीएम मोदी ने कहा कि देशभर के सरकारी अस्पतालों में मुफ्त टीकाकरण किया जा रहा है। इसलिए जब भी आपकी बारी आए तो टीका जरूर लगाएं। ये टीका हमें कोरोना के विरुद्ध सुरक्षा कवच देगा, गंभीर बीमारी की आशंका को कम करेगा।

दवा और जरूरी वस्तुओं की जमाखोरी पर सख्त कार्रवाई को कहा

इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘ऑक्सीजन रेल ने कोरोना के खिलाफ बहुत बड़ी ताकत दी है। देश के दूरदराज के हिस्सों में यह विशेष ट्रेनें ऑक्सीजन पहुंचाने में जुटी हैं। ऑक्सीजन टैंकर ले जाने वाले ड्राइवर बिना रुके काम कर रहे हैं।’ पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी संकट के समय दवाइयां और जरूरी वस्तुओं की जमाखोरी और कालाबाजारी में भी कुछ लोग अपने निहित स्वार्थ के कारण लगे हुए हैं। उन्होंने इसे मानवता के खिलाफ बताते हुए राज्य सरकारों से ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने को भी कहा। बता दें कि देश में कोविड-19 की दूसरी लहर में इसके इलाज के लिए जरूरी दवाई और यंत्रों की जमाखोरी हो रही है।

Read More: देश में दिसंबर तक कोरोना टीके की 216 करोड़ खुराक उपलब्ध होंगी: केंद्र सरकार

COMMENT