भीड़ ने एक पुलिसवाले की हत्या कर दी लेकिन मुख्यमंत्री योगी को सिर्फ गायों की फिक्र है

Views : 4996  |  0 minutes read
Uttar-Pradesh-Chief-Minister-Yogi-Adityanath

बुलंदशहर में एक पुलिस इंस्पेक्टर समेत दो लोगों की भीड़ द्वारा हत्या कर दी गई। जबकि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उसके बाद मंगलवार की रात को इलाके में कथित गाय वध की जांच के आदेश दिए।

लेकिन योगी आदित्यनाथ ने पुलिस निरीक्षक सुबोध कुमार सिंह की हत्या के लिए ज़िम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के बारे में कुछ नहीं कहा।

घटना के एक दिन बाद मंगलवार की रात को आदित्यनाथ ने मुख्य सचिव, डीजीपी, मुख्य सचिव (गृह) और पुलिस महानिदेशक (खुफिया) के साथ लखनऊ में एक मीटिंग आयोजित की। आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक आदित्यनाथ ने अधिकारियों से कहा कि गाय वध करने वाले लोगों के खिलाफ कठिन कार्रवाई की जानी चाहिए। लेकिन बयान में बुलंदशहर में हुई हिंसा का कोई जिक्र नहीं हुआ।

आधिकारिक बयान में योगी ने कहा कि यह घटना एक बड़े षड्यंत्र का हिस्सा है और इसलिए जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से गाय वध से जुड़े हैं उनकी गिरफ्तारी होनी चाहिए।

अगली सुबह, एनडीटीवी ने बताया कि आदित्यनाथ सरकार ने एक और बयान जारी करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री पुलिसकर्मी के परिवार से मुलाकात करेंगे।

सोमवार को बुलंदशहर में हिंसा के बाद भी गोरखपुर में एक लेजर शो में भाग लेने पर मुख्यमंत्री को पहले ही विपक्षी दलों से विरोध का सामना करना पड़ सकता है। विपक्ष ने कहा है कि ऐसी घटनाएं चुनाव से पहले सांप्रदायिक अशांति को उकसाने के प्रयासों का एक हिस्सा हैं। आदित्यनाथ अब उत्तर प्रदेश छोड़ चुके हैं और अन्य राज्यों में भारतीय जनता पार्टी के लिए प्रचार कर रहे हैं।

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिवार ने उनकी मृत्यु में पुलिस षड्यंत्र का आरोप लगाया है क्योंकि वह मोहम्मद अख्लाक के मामले की जांच कर रहे थे।

COMMENT