145 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का इंतजाम किया, लेकिन महाराष्ट्र सरकार से नहीं मिल रहा सहयोग: रेल मंत्री

Views : 944  |  3 minutes read
Railway-Minister-Piyush-Goyal

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने महाराष्ट्र से एक बार फिर ट्रेनों के संचालन को लेकर उद्धव सरकार पर निशाना साधा है। गोयल ने मंगलवार को महाराष्ट्र सरकार पर सहयोग न करने का आरोप लगाया। इससे पहले राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रवासी मजदूरों के लिए ट्रेन संचालन को लेकर केंद्र सरकार पर सवाल उठाए थे। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, ‘महाराष्ट्र सरकार के अनुरोध पर हमने आज 145 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का इंतजाम किया है। ये सभी ट्रेनें सुबह से तैयार हैं। उन्होंने आगे कहा कि इनमें से 50 ट्रेनों को तीन बजे तक चल जाना चाहिए था, लेकिन यात्रियों की कम संख्या के कारण दोपहर तीन बजे तक केवल 13 ट्रेनें ही चल पाई हैं।’

महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र पर गलत आरोप लगाया

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, ‘मैं महाराष्ट्र सरकार से अनुरोध करता हूं कि राज्य सरकार यह सुनिश्चित करने में पूरा सहयोग करे कि प्रवासी मजदूर अपने घर पहुंच सकें। महाराष्ट्र सरकार बिना किसी अतिरिक्त देरी के उन्हें स्टेशन पर ट्रेन के समय से तक लाने की व्यवस्था करें। इससे पूरे नेटवर्क और योजना पर असर पड़ता है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘महाराष्ट्र सरकार ने रविवार को एकदम गलत आरोप लगाया था कि उन्होंने 80 ट्रेनों की मांग की थी और उन्हें केवल 30-40 ट्रेन उपलब्ध कराई गईं। मैंने उन्हें 125 ट्रेन चलाने की पेशकश की थी। वह सोमवार की ट्रेनों के लिए भी जानकारी नहीं दे पाए। उन्होंने हमें केवल 41 ट्रेनों की जानकारी दी।’

भारत में कोरोना से लड़ने के लिए लॉकडाउन सफल रहा: प्रकाश जावड़ेकर

मंत्री गोयल कहा, ‘ये ट्रेनें भी खाली रहीं और इनमें कोई यात्री नहीं आया। सोमवार की शाम उन्होंने 145 ट्रेनों की सूची भेजी जो पूरी तरह से अव्यवस्थित थी। इसमें कुछ बिहार और उत्तर प्रदेश को लिखे कुछ पत्र थे जो 15 दिन पुराने थे, जिसमें उन्होंने पुरानी तारीख काट कर आज की तारीख लिखी और हमारे पास भेज दी। आपको बता दें कि महाराष्ट्र सरकार के मुखिया सीएम उद्धव ठाकरे ने हाल में केंद्र सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने अपने एक बयान में कहा था कि प्रवासी मजदूरों को उनके गांव भेजने के लिए केंद्र की ओर से सहायता नहीं आई, जबकि महाराष्ट्र सरकार इस काम में करोड़ों रुपए खर्च कर चुकी है।

COMMENT