रियल लाइफ के कंमाडो है विद्युत्, असल जिंदगी में महिलाओं को देते हैं सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग

Views : 4524  |  0 minutes read

फिल्म इंडस्ट्री में ऐसे कई हीरो हैं जिन्हें उनकी एक्टिंग से ज्यादा फिटनेस और एक्शन को लेकर जाना जाता है। एक्टिंग के मामले में विद्युत ना सिर्फ बॉलीवुड में बल्कि तमिल और तेलगु फिल्मों में भी अपना हाथ आजमा चुके हैं। 10 दिसंबर को विद्युत अपना 38वां जन्मदिन मना रहे हैं। इस खास मौके पर आइए उनकी अब तक की जिंदगी पर डालें एक नजर।

विद्युत जामवाल का जन्म 1980 में जम्मू में हुआ था। उनके पिता आर्मी ऑफिसर थे। वहीं उनकी मां का नाम विमला जामवाल है। महज 3 साल की उम्र से ही विद्युत मार्शल आर्ट्स की ट्रेनिंग लेनी शुरू कर दी थी। पिता आर्मी में होने के कारण उनकी पढ़ाई में देश के कई शहरों में हुई।

ऐसे मिली पहली फिल्म

मार्शल आर्ट में अपना करियर बनाने के लिए विद्युत ने मुंबई का रुख किया। लेकिन यहां आते ही उन्हें पता चला कि निशिकांत कामथ अपनी फिल्म ‘फोर्स’ के लिए एक नये चेहरे की तलाश में है। विद्युत ने फिल्म का ऑडिशन दिया और इसमें सिलेक्ट हो गए। हालांकि बॉलीवुड में डेब्यू करने से पहले उन्होंने तेलुगू फिल्म ‘शक्ति’ से एक्टिंग कॅरियर की शुरुआत कर ली थी।

फिल्मी सफर

विद्युत की डेब्यू फिल्म ‘फोर्स’ बॉक्स ऑफिस पर कामयाब रही। अपनी पहली डेब्यू फिल्म से विद्युत भारतीय दर्शकों पर अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रहे। इस फिल्म में वे विलेन के किरदार में नजर आए थे। फिल्म में विद्युत के अलावा जॉन अब्राहम और जिनेलिया डिसूजा भी थी। उन्हें इस फिल्म के लिए बेस्ट डेब्यू एक्टर का फिल्मफेयर अवॉर्ड से भी नवाजा गया था। इसके बाद वे फिल्म ‘कमांडो’ में बतौर लीड एक्टर नजर आए। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सफल साबित हुई। और इसके बाद विद्युत बॉलीवुड में बतौर एक्शन हिरो के रुप में शोहरत पाने में सफल साबित हुई।

लड़कियों को सेल्फ डिफेंस की देते हैं ट्रेनिंग

समाज में महिलाओं की असुरक्षा आज देश की सबसे बड़ी और गंभीर मुद्दा है। ऐसे में विद्युत ने सेल्फ डिफेंस की क्लासेज शुरू की जिसमें वह लड़कियों को आत्मरक्षा करने के लिए प्रशिक्षण देते हैं।

COMMENT