डेंगू में महंगी दवाओं के बजाय अपनाएं ये घरेलू नुस्खे, जल्द होगा फायदा

Views : 1248  |  0 minutes read
Home remedies for dengue

देशभर में डेंगू अपना कहर बरपा रहा है। यह एक मच्छर जनित वायरल रोग है। इसमें रोगी को सिरदर्द, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द के साथ—साथ तेज बुखार होता है। बार—बार चक्कर आने की शिकायत होती है। डेंगू बुखार में मरीज के शरीर की प्लेटलेट्स काफी तेजी से गिरती हैं, जो कभी—कभी रोगी की मौत की वजह भी बन जाती है।

डेंगू मुख्य रूप से एडीज एजिप्टी नामक संक्रमित मच्छर के काटने से फैलता है जो दिन के समय अधिक एक्टिव रहता है। जब यह मच्छर किसी डेंगू पीड़ित व्यक्ति का रक्त चूसता है तो वायरस मच्छर की लार ग्रंथियों में चला जाता है।

यदि मरीज की हालत ज्यादा गंभीर है तो उसको तुरंत इलाज के लिए हॉस्पिटल ले जाना चाहिए, क्योंकि समय पर सही इलाज की जरूरत होती है। परंतु हम रोगी की प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए कई घरेलू नुस्खे अपना सकते हैं, जो रोगी के लिए काफी फायदेमंद हो सकते हैं।

हमारे शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या

एक स्वस्थ मानव शरीर में 1.5 लाख से लेकर 4 लाख तक प्लेटलेट्स होती हैं। डेंगू होने पर रोगी में इनकी संख्या 50 हजार से कम होने पर जान को जोखिम हो सकता है।

डेंगू के मरीजों की प्लेटलेट्स को बढ़ाने के लिए कुछ घरेलू नुस्खें अपनाए जा सकते हैं

गिलोय के पत्ते

डेंगू बुखार होने पर गिलोय के पत्तों का जूस का सेवन नियमित रूप से करने से इसके प्रभाव को कम किया जा सकता है। गिलोय की बेल के 10 छोटे टुकड़े लें, साथ ही थोड़ा सा अदरक, अजवाइन करीब 2 लीटर पानी में 5-7 मिनट तक उबाल लें। इसके गुनगुना होने के बाद रोगी को भूखे पेट पिला दें इससे रोगी का फायदा होगा।

पपीता के पत्ते

डेंगू रोगी की प्लेटलेट्स को बढ़ाने में पपीते के पत्तों का रस बेहद फायदेमंद हैं। वर्ष 2009 में मलेशिया में हुए एक शोध में पाया गया कि डेंगू बुखार में पपीते का पत्ते एक बेहतर दवा है। इसका रस रोगी व्यक्ति को 10-20 मिली लीटर रोजाना पीना चाहिए।

चुकंदर

इसमें प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। चुकंदर का नियमित सेवन करने से हीमोग्लोबिन और प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने का बेहतर विकल्प है। इसको सब्जी के रूप में भी रोगी को सेवन करने के लिए दिया जा सकता है। इसका 10 मिली ताजा जूस रोगी की सेहत के लिए फायदेमंद है।

जौ का रस

अंकुरित जौ यानी व्हीट ग्रास का जूस निकालकर रोगी को पिलाना फायदेमंद है। इसके सेवन सेस रोगी की प्लेटलेट्स को नियंत्रित किया जा सकता है। रोज 150 एमएल जूस के सेवन से रोगी की हालत में जल्द सुधार होने लगता है।

कद्दू

इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन—के होता है। विटामिन के प्लेटलेट्स की तरह खून को जमाने का काम करती है। डेंगू के मरीज को प्रतिदिन 150 एमएल कद्दू के रस में शहद मिलाकर पीने को दें।

कीवी

इसमें विटामिन-सी, विटामिन-ई और पॉलीफिनॉयल पाया जाता है। प्रतिदिन सुबह-शाम एक कीवी का सेवन करने से प्लेटलेट्स की संख्या में बढ़ोतरी होती है। इसके सेवन से कॉलेस्ट्रॉल भी नियंत्रित रहता है।

अनार

यह एक पौष्टिक फल है। इसमें प्रचुर मात्रा में आयरन मौजूद होता है। इसके सेवन से हीमोग्लोबिन और प्लेटलेट्स की मात्रा में बढ़ोतरी करने में फायदेमंद है। इसका जूस मरीज के रोजाना पिलाना चाहिए।

पानी

ब्लड के निर्माण में पानी की मात्रा पर्याप्त होनी आवश्यक है। व्यक्ति को प्रतिदिन 8-10 गिलास पानी पीना चाहिए। डेंगू के मरीज का अधिक से अधिक पानी पिलाना चाहिए। नारियल पानी भी दे सकते हैं।

मरीज को डॉक्टर भी अधिक से अधिक द्रव पदार्थों के सेवन की सलाह देते हैं।

COMMENT