यूनेस्को की महानिदेशक ने जयपुर को सौंपा वर्ल्ड हैरिटेज सिटी का प्रमाण पत्र

Views : 684  |  3 minutes read

यूनेस्को की महानिदेशक आंद्रे अजोले ने राजधानी जयपुर के अल्बर्ट हॉल पर आयोजित एक कार्यक्रम में गुलाबी नगरी को ‘विश्व धरोहर शहर’ (World Heritage City) का औपचारिक प्रमाण पत्र सौंप दिया है। यूनेस्को की महानिदेशक ने राज्य के नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल को यह प्रमाण पत्र सौंपा है।

कार्यक्रम में यह बोलीं यूनेस्को महानिदेशक-

अल्बर्ट हॉल पर आयोजित एक भव्य समारोह में यूनेस्को महानिदेशक आंद्रे अजोले ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि जयपुर निवासियों ने टिकाऊ भविष्य के निर्माण हेतु सांस्कृतिक विरासत के संरक्षण के जो प्रयास किए हैं उसे अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने मान्यता दे दी है। उन्होंने यह भी कहा कि मुझे जयपुर आकर बहुत खुशी हुई है।

मंत्री धारीवाल को सौंपा प्रमाण पत्र-

यूनेस्को महानिदेशक ऑड्रे अजोले ने बुधवार को अलबर्ट हॉल पर आयोजित समारोह में राजस्थान सरकार के स्वायत्त शासन व नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल को जयपुर के लिए वर्ल्ड हैरिटेज सिटी का प्रमाण पत्र सौंपा। इस अवसर पर पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने कहा कि जयपुर दुनिया के बैस्ट प्लान्ड शहरों में से एक है और यह गर्व की बात है कि यूनेस्को महानिदेशक जयपुर आई हैं। कार्यक्रम में मौजूद कला, साहित्य व संस्कृति मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने कहा कि हेरिटेज सूची में शामिल किए जाने से राज्य के पर्यटन को और बढ़ावा मिलेगा।

 स्पेशल: शादी पर समाज की नाराज़गी से लेकर सांसद बनने तक की ऐसी है प्रिंसेज दीया कुमारी की कहानी

वर्ल्ड हैरिटेज सिटी दर्जा मिलने से फायदे-

राजधानी जयपुर को वर्ल्ड हेरिटेज सिटी का दर्जा मिलने से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पर्यटन को और बढ़ावा मिलेगा व राजधानी की अर्थव्यवस्था को ​मजबूती मिलेगी व रोजगार के नए रास्ते खुलने लगेंगे।

 

 

COMMENT