यूआईडीएआई ने सभी सेवाओं के लिए आधार सत्यापन की फीस 20 रुपये से घटाकर इतनी की

Views : 961  |  3 minutes read
UIDAI-Aadhaar-Verification-New-Rate

देश में आधार कार्ड बनाने वाली संस्था यूनिक आईडेंटिटी अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानि यूआईडीएआई ने देशभर में सभी सेवाओं के लिए आधार सत्यापन की फीस 20 रुपये से घटाकर 3 रुपये कर दी है। यूआईडीएआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सौरभ गर्ग ने एनपीसीआई-आईएएमएआई द्वारा आयोजित ग्लोबल फिनटेक फेस्ट में जानकारी देते हुए बताया कि वित्तीय क्षेत्र में आधार से होने वाले लाभ अनगिनत हैं।

उन्होंने आगे कहा, ‘हमने किसी भी सेवा के लिए हर बार आधार सत्यापन करवाने की फीस को बीस रुपये से घटाकर 3 रुपये प्रति सत्यापन कर दिया है। ताकि अलग-अलग एजेंसियां और संस्थान देश के उस डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर का लाभ उठाने में सफल रहें, जिसका निर्माण सरकार ने लोगों के जीवन को आसान बनाने के लिए किया है।’ आपको जानकारी के लिए बता दें कि देश में अब तक कुल 99 करोड़ से अधिक ई-केवाईसी आधार के जरिये पूरे किए जा चुके हैं।

एक अक्टूबर से बदल जाएंगे ये पांच नियम

एक अक्टूबर, 2021 से पांच नियमों में बदलाव होने जा रहा है। इसमें 80 वर्ष या उससे ज्यादा उम्र के पेंशनभोगियों को डिजिटल जीवन प्रमाण-पत्र जमा करने की सुविधा मिलेगी। इसके लिए 30 नवंबर, 2021 तक का समय दिया गया है। एक अक्टूबर से डेबिट/क्रेडिट कार्ड से होने वाले ऑटो डेबिट के लिए नया नियम लागू हो रहा है। इसके तहत मंजूरी के लिए बैंकों या वित्तीय संस्थाओं को 24 घंटे पहले ग्राहकों के पास ऑटो डेबिट का मैसेज भेजना होगा।

तीन बैंकों के चेकबुक, MICR और IFS कोड अमान्य हो जाएंगे

एक अक्टूबर से तीन बैंकों ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और इलाहाबाद बैंक के पुराने चेकबुक, एमआईसीआर और आईएफएस कोड अमान्य हो जाएंगे। इन तीनों पूर्ववर्ती बैंकों के ग्राहकों को 30 सितंबर तक नए चेकबुक लेने को कहा गया है। वहीं, एसेट मैनेजमेंट कंपनियों में काम करने वाले जूनियर कर्मचारियों को म्यूचुअल फंड की इकाई में अपने ग्रॉस वेतन का 10 फीसदी हिस्सा निवेश करना होगा। अक्टूबर, 2023 से निवेश को 10 से बढ़ाकर 20 फीसदी कर दिया जाएगा।

इसके अलावा दिल्ली में एक अक्टूबर से लेकर 16 नवंबर, 2021 तक निजी शराब की दुकानें नहीं खुलेंगी। नया नियम केंद्रशासित प्रदेशों की एक्साइज नीति के तहत लागू होने जा रहा है। हालांकि, इस अवधि में सरकारी शराब की दुकानें खुली रहेंगी। इसके बाद 17 नवंबर, 2021 से निजी शराब की दुकानें फिर से खुलने लगेंगी।

Read  Also: देश के 21 डूबे हुए बैंकों के ग्राहकों को इतने दिनों में वापस मिलेंगे पैसे

COMMENT