माइग्रेन दर्द के ये हैं प्रमुख कारण, इन आसान उपायों से पाएं निजात

Views : 1914  |  3 minutes read
Migraine-Pain-Remedies

सिर दर्द की समस्या ज्यादातर लोगों को होती है। मगर जब आए दिन होने वाली इस समस्या की तरफ ध्यान नहीं दिया जाए तो यह माइग्रेन दर्द का रूप धारण कर लेती है। आज के समय में काफी लोग इस बीमारी से पीडित है। जानिये, इस बीमारी के क्या है प्रमुख कारण व समाधान के क्या है आसान उपाय-

माइग्रेन के प्रमुख कारण

इंसान में माइग्रेन बीमारी के प्रमुख कारणों में वर्तमान जीवन शैली, कम नींद, काम का बोझ, तनाव, डिप्रेशन, शराब की आदत, खान पान में लापरवाही, दवाईयों का अधिक उपयोग, आनुवांशिकी आदि कारण हैं। इन वजहों से व्यक्ति माइग्रेन की समस्या से पीडित हो जाता है।

माइग्रेन में इस तरह होता है सिरदर्द

इस बीमारी में व्यक्ति के सिर के एक हिस्से में धीरे-धीरे सिरदर्द बहुत तेज हो जाता है और इस सिरदर्द को सहन करना मुश्किल हो जाता है।

माइग्रेन बीमारी से नुकसान

माइग्रेन की इस बीमारी से स्वास्थ्य को बहुत नुकसान उठाना पड जाता है। माइग्रेन से वजन में कमी,याददाश्त व एकाग्रता में कमी,हाई व लो ब्लड प्रेशर,बेहोशी,कब्ज,चिडचिडापन जैसी शिकायत होने लग जाती हैं। अगर समय पर उचित इलाज नहीं करवाया जाए तो समस्या और बढने से बीमारी जानलेवा तक हो जाती है।

इस तरह दूर करें ये बीमारी

माइग्रेन के दुष्प्रभावों से बचने के लिए इस बीमारी का शुरूआती स्तर पर ही इलाज करना जरूरी हो जाता है। कुछ आसान तरीकों से इसे आप कंट्रोल कर सकते हैं।

  • इस रोग से छुटकारा पाने के लिए सबसे पहले आपको अपनी जीवन शैली बदलनी पडेगी और दिनचर्या, खानपान पर विशेष ध्यान देना होगा।
  • सुबह जल्दी उठकर कुछ देर टहल कर ताजा हवा लेनी चाहिए जिससे सेहत स्वस्थ व शरीर में चुस्ती रहने से दिमाग भी एका​ग्रचित्त रहे।
  • खान पान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है और फास्ट फूड से बिल्कुल दूरी बना लेनी चाहिए।
  • शराब व धूम्रपान को बिल्कुल हाथ नहीं लगाना चाहिए।
  • रात्रि में समय पर सोना चाहिए और सुबह भी देर तक सोने की आदत को बदलना चाहिए।
इन चीजों पर भी दें ध्यान

माइग्रेन दर्द होने पर तेल को हल्का गर्म कर सिर पर मसाज करनी चाहिए, जिससे ब्लड सर्कुलेशन होने से दर्द में राहत मिलती है। दर्द से छुटकारा पाने के लिए पानी में दालचीनी मिलाकर पेस्ट बना लेना चाहिए और इस लेप को सिर पर लगाना चाहिए, जिससे दर्द में आराम मिलता है।

धूप में छाता या टोपी लगाकर ही निकलना चाहिए अन्यथा दर्द हो सकता है। दिनभर पर्याप्त मात्रा में पानी जरूर पीना चाहिए जिससे शरीर में पानी की कमी नहीं रहे। किसी भी विषय पर ज्यादा तनाव लेने से बचें और काम के दौरान थोडा आराम जरूर करना चाहिए।

Read More: लाइफ स्टाइल में इन खास बातों का ध्यान रख अस्थमा से रहें दूर

COMMENT