शरीर में दिख रहे ये संकेत हो सकते हैं पानी की कमी के लक्षण

Views : 620  |  4 minutes read
Symptoms-of-lack-of-water

मानव शरीर कब और किस बीमारी की चपेट में आ जाए कुछ भी नहीं कहा जा सकता। हालांकि, कई बीमारियां ऐसी होती है जो हमारे शरीर में हमारी ही कुछ गलतियों की वजह से पनपती हैं। किसी व्यक्ति के स्वस्थ जीवन में अच्छा खानपान, अच्छा वातावरण, शुद्ध हवा और शुद्ध पानी की काफी अहम भूमिका रहती है। अक्सर देखा जाता है कि कई लोग पानी का सेवन बहुत ही कम करते हैं या न के बराबर करते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार, प्रत्येक स्वस्थ व्यक्ति को रोजाना लगभग आठ गिलास यानि दो लीटर पानी अवश्य ही पानी चाहिए। क्योंकि कुछ गंभीर बीमारियां शरीर में पानी की कमी के कारण भी हो सकती हैं। ऐसे में हम आपको उन संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं जो पानी की कमी के लक्षण हो सकते हैं…

पेशाब का रंग गहरा होना व कम मात्रा में आना

हमारे शरीर में जब पानी की कमी होती है तो इसके कारण हमारी किडनी का कामकाज प्रभावित होने लगता है। कम पेशाब आना भी इसका ही एक लक्षण है। पानी की कमी हो जाने पर पेशाब का रंग गहरा हो सकता है तथा उसमें गंध भी आ सकती है। मानव शरीर से विषाक्त पदार्थों और बैक्टीरिया को बाहर निकालने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना जरूरी है।

त्वचा संबंधित बीमारियां हो जाना

पानी त्वचा को चमकदार, जीवंत और युवा दिखाने में मददगार होता है। लेकिन पानी की कमी हो जाने पर त्वचा कठोर हो जाती है और अपनी कोमलता खो देती है। इसकी वजह से चेहरे पर झुर्रियां, त्वचा का झुलसना, सूखापन आदि दिक्कतें का सामना करना पड़ सकता है।

Symptoms-of-lack-of-water-

अक्सर थकान महसूस करना

अगर किसी व्यक्ति को अक्सर थकान महसूस होती है तो यह इस बात का संकेत हो सकता है कि उसके शरीर में पानी की कमी हो सकती है। विशेषज्ञों के अनुसार, जब मानव शरीर में तरल पदार्थ की कमी से रक्त की मात्रा में कमी हो जाती है, तो इससे मांसपेशियों और बाकी अंगों पर ऑक्सीजन और पोषक तत्वों को पहुंचाने के लिए हृदय पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है। यही कारण है कि कई लोगों को इसके कारण थकावट होती है।

सांस लेने के दौरान मुंह से बदबू आना

पानी मुंह में लार बनने के लिए बहुत जरूरी होता है। दरअसल, लार बैक्टीरिया को दूर करने में मदद करती है। यह हमारे मसूड़े और दांतों को स्वस्थ बनाने में अहम भूमिका निभाती है। लेकिन जब शरीर में पानी की कमी हो जाती है तो इससे लार का उत्पादन नहीं हो पाता है। ऐसा होने पर बैक्टीरिया के कारण सांस लेने के दौरान मुंह से बदबू आने की समस्या हो जाती है।

Read Also: दूध का अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर को होते हैं ये नुकसान

COMMENT