आतंकियों ने श्रीनगर में सुरक्षाबलों की बस पर किया हमला, दो जवान शहीद व 12 घायल

Views : 929  |  3 minutes read
Terrorists-Attack-Srinagar

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में आतंकियों ने सोमवार शाम को एक कायराना हरकत को अंजाम दिया। राजधानी श्रीनगर के बाहरी इलाके जेवन में आतंकियों ने सुरक्षाबलों की एक बस को निशाना बनाते हुए उस पर फायरिंग कर दी। इस हमले में दो जवान शहीद और 12 जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना के बाद हमले को अंजाम देने वाले आतंकियों की तलाश में इलाके की घेराबंदी कर सर्च अभियान चलाया जा रहा है।

हमले में एक एएसआई और एक कांस्टेबल शहीद

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया कि श्रीनगर के पंथा चौक इलाके में जेवन के पास आतंकियों ने एक पुलिस वाहन पर फायरिंग की। इस हमले में 12 जवान घायल हुए हैं। सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया है। वहीं, आतंकियों की फायरिंग में गोली लगने से पुलिसकर्मियों में एक एएसआई गुलाम हसन निवासी टॉप नील, रामबन और एक चयन ग्रेड कांस्टेबल शफीक अली निवासी माहौर-रियासी शहीद हो गए। दोनों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

आर्म्ड पुलिस कॉम्प्लेक्स के करीब घात लगाकर की फायरिंग

जानकारी के अनुसार, सोमवार शाम करीब छह बजे श्रीनगर के जेवन इलाके में जब जम्मू-कश्मीर आर्म्ड पुलिस की नौवीं बटालियन के जवानों को लेकर बस इलाके में स्थित आर्म्ड पुलिस कॉम्प्लेक्स के करीब पहुंची। इसी दौरान पहले से घात लगाए बैठे दो-तीन आतंकियों ने बस पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। जब तक जवान मोर्चा संभालते आतंकी बस पर घातक हमले को अंजाम देकर मौके से फरार होने में सफल हो गए।

आतंकियों की फायरिंग में ये जवान हुए घायल

जम्मू-कश्मीर पुलिस के मुताबिक, कांस्टेबल बिशंभर दास (राबता, जम्मू), संजय कुमार (राजोरी), विकास शर्मा, अब्दुल मजीद (राजपोरा-पुलवामा), सज्जाद अहमद (त्राल), रमीज अहमद (गांदरबल), मुदासिर अहमद (त्राल), शौकत अली (त्राल), आर्शिद मोहम्मद (बड़ी ब्राह्मणा), रवि कांत (हीरानगर कठुआ), लियाकत अली (कठुआ) व बस चालक नरिंदर सिंह फायरिंग में घायल हुए हैं।

आतंकियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा: एलजी

केंद्रशासित प्रदेश के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि शांति के दुश्मनों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। ऐसे तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी। आतंकियों के पूरे पारिस्थितिकी तंत्र को खत्म किया जाएगा। उन्होंने घायलों के स्वस्थ होने की कामना की। नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने भी इस आतंकी हमले की निंदा की। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के हमलों के लिए समाज में कोई स्थान नहीं है।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में आतंकी हमले में शहीद हुए सुरक्षाकर्मियों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। साथ ही उन्होंने हमले की विस्तृत जानकारी भी मांगी है।

सरकार ने ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर 31 जनवरी तक बढ़ाई रोक

COMMENT