सोनाली बेंद्रे: 90 के दशक की इस मशहूर अदाकारा ने जब करीब से देखी थी मौत

Views : 904  |  0 minutes read

1 जनवरी को बर्थडे मनाने वाले सितारों की लिस्ट में अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे भी शामिल है। बॉलीवुड में सोनाली का एक बेहतरीन सफर रहा है। ना सिर्फ फिल्मों में बल्कि पर्सनल लाइफ में भी सोनाली ने डटकर मुश्किलों का सामना किया। सोनाली ने कुछ समय पहले ही कैंसर को मात दी है। इस गंभीर बीमारी के दौरान सोनाली ने हर एक पल को सोशल मीडिया पर बयां किया और फैंस के साथ साझा किया। कैंसर से लड़ी गई उनकी लड़ाई  वाकई काबिल-ए-तारीफ है।

सोनाली का जन्म आज ही के दिन 1975 को मुंबई में एक मिडिल क्लास मराठी परिवार में हुआ था। उनका पालन-पोषण एक सख्त घराने में हुआ था। बचपन में सोनाली ने कई यात्राएं की हैं, चूंकि उनके पिता केंद्रीय लोक निर्माण विभाग (CPWD) में काम करते थे, और हर 2-3 साल के बाद उनका ट्रांसफर हो जाता था, जिसके कारण सोनाली को कभी भी लंबे समय तक दोस्त बनाने का मौका नहीं मिला।

मॉडलिंग से की कॅरियर की शुरुआत

सोनाली ने मॉडलिंग करने के बारे में कभी नहीं सोचा था, लेकिन उनकी किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। अपने कॉलेज में एक फैशन शो के दौरान, जिस लड़की को रैंप वॉक करना चाहिए था, वह नहीं कर पाई, जिसके बाद सोनाली को उसकी जगह लेने को कहा। सोनाली के लिए ये काफी मुश्किल था क्योंकि उन्होंने अबतक कभी हिल्स नहीं पहनी थी। सौभाग्य से उन्होंने इसमें अच्छा प्रदर्शन किया और पहला पुरस्कार भी जीता, जिसके बाद उसे मॉडलिंग के प्रस्ताव मिलने लगे।

महेश भट्ट की पड़ी नजर

मॉडलिंग कॅरियर के दौरान सोनाली पर फिल्म निर्माता महेश भट्ट की नजर पड़ी। यहीं से शुरु हुआ सोनाली का फिल्मी कॅरियर। उन्होंने साल 1994 में फिल्म ‘आग’ से बॉलीवुड डेब्यू किया। हालांकि उनकी पहली फिल्म महेश भट्ट के साथ 1994 में आई ‘नाराज’ थी मगर इस फिल्म से पहले उनकी फिल्म आग रिलीज हुई।

5 साल तक गोल्डी को डेट करती रहीं सोनाली

सोनाली और गोल्डी बहल की पहली मुलाकात फिल्म नाराज के सेट पर हुई। जो 998 में आई फिल्म अंगारे का निर्माण कर रहे थे। समय के साथ दोनों दोस्त बने करीब 5 साल तक एक दुसरे को डेट करने के बाद दोनों ने साल 2002 में शादी कर ली।

90 के दशक में सोनाली अपनी फिल्मों और खूबसूरती के कारण दर्शकों के बीच खूब पसंद की गई। सोनाली को बुक पढ़ना काफी पसंद है। साल 2015 में, उन्होंने अपनी पहली पुस्तक द मॉडर्न गुरुकुल: माय एक्सपेरिमेंट विद पेरेंटिंग का विमोचन किया, जिसके माध्यम से उन्होंने पहली बार माँ के रूप में अपने अनुभवों और चुनौतियों को साझा किया।

कैंसर की खबर से सन्न रह गई थी सोनाली

साल 2017 को सोनाली कभी नहीं भूल पाएंगी। ये वही साल था जब सोनाली को अपने कैंसर होने का पता चला था। इस बात का खुलासा सोनाली ने सोशल मीडिया के जरिये दी।  सोनाली बेंद्रे ने  अपनी इस गंभीर बीमारी का इलाज न्यूयॉर्क में रहते हुए कराया। उन्हें अपने कैंसर होने का पता तब चला जब वे इसकी लास्ट स्टेज पर थी और डॉक्टर ने बताया कि उनके बचने की उम्मीद महज 30 परसेंट है। इसके बावजूद सोनाली ने हार नहीं मानी और डटकर कैंसर से लड़ी और जीती भी। फिलहाल सोनाली न्यूयॉर्क से अपना इलाज करवाकर भारत लौट आईं है और अपनी जिंदगी को पहले की तरह जी रही है।

 

 

 

COMMENT