सुरक्षाबलों ने श्रीनगर मुठभेड़ में मार गिराए तीन आतंकी, एक डिप्टी कमांडेंट घायल

Views : 923  |  3 minutes read
Jammu-Kashmir-News

जम्मू-कश्मीर राज्य के श्रीनगर में हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकी मार गिराए हैं। श्रीनगर के बटमालू इलाके में बुधवार देर रात शुरू हुई यह मुठभेड़ आज गुरुवार सुबह तक जारी रही। जेएंडके पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने मोर्चा संभाला और सभी आतंकियों को ढेर कर दिया। हालांकि, इस दौरान एक स्थानीय नागरिक की आतंकियों की गोली से मौत हो गई। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने तीनों आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि उनके शवों को कब्जे में ले लिया गया है। मारे गए आतंकियों के पास से कई तरह के हथियार भी बरामद किए गए हैं।

सुरक्षाबलों ने इस साल अब तक 177 आतंकी किए ढेर

डीजीपी दिलबाग सिंह ने श्रीनगर मुठभेड़ के दौरान एक स्थानीय नागरिक की मौत पर अफसोस जताया और बताया कि सीआरपीएफ के एक डिप्टी कमांडेंट भी इस मुठभेड़ में घायल हो गए हैं। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है और फिलहाल निगरानी में हैं। उन्होंने बताया कि श्रीनगर में इस वर्ष अब तक सात ऑपरेशनों में 16 आतंकियों का सफाया किया जा चुका है। वहीं, इस वर्ष अब तक 72 ऑपरेशन चलाए गए, जिनमें 177 आतंकी मारे जा चुके हैं। इनमें स्थानीय और पाकिस्तान के भी कई आतंकी शामिल थे।

श्रीनगर मुठभेड़ के संबंध में अधिकारियों ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने बटमालू के फिरदौसाबाद इलाके में देर रात करीब ढाई बजे घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू कर दिया था। उन्होंने बताया कि आतंकवादियों ने पहले सुरक्षाबलों पर गोलीबारी की, जिसके बाद उनकी तलाशी का अभियान मुठभेड़ में बदल गया।

Read More: तनाव के बीच चीन एलएसी पर लाउडस्पीकर लगाकर बजा रहा पंजाबी गाने

जेएंडके पुलिस ने मंगलवार को गिरोह का किया था भंडाफोड़

आपको बता दें कि इससे पहले जम्मू-कश्मीर पुलिस ने मंगलवार को आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के एक गिरोह का भंडाफोड़ किया था। पुलिस ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि कश्मीर के तीन युवकों का एक संगठन पाकिस्तानी आतंकी के पिछले कुछ समय से लगातार संपर्क में है। संगठन के तीनों युवकों की पहचान गुटलीबाग निवासी अर्शिद अहमद खान, गांदरबल निवासी माजिद रसूल और मोहम्मद आसिफ नजर के रूप में की गई। ये तीनों युवक एक पाकिस्तानी आतंकी फयाज खान के संपर्क में थे।

COMMENT