स्वच्छता सर्वेक्षण-2020: ओडीएफ डबल प्लस में जयपुर को मिले पूरे अंक

Views : 767  |  2 Minute read

स्वच्छता सर्वेक्षण के दौरान 19 जनवरी को जयपुर शहर के लिए अच्छी खबर आई। स्वच्छता सर्वेक्षण-2020 में जयपुर को फिर एक बार से ओडीएफ प्लस प्लस दर्जा मिला गया है, जिससे जयपुर के 500 अंक पक्के हाे गए हैं। जयपुर नगर निगम को पिछली बार भी यह दर्जा मिला था। थर्ड पार्टी इंस्पेक्शन में जयपुर को मिला री सर्टिफिकेट है। बता दें कि खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) प्लस प्लस के लिए नगर निगम ने आवेदन किया था, जिसमें शहर को पूरे अंक मिले हैं।

दिल्ली से आई टीम ने शहर के कुल 19 टॉयलेट्स का निरीक्षण किया था। इनमें 4 को स्वच्छ, 1 बहुत स्वच्छ, 5 अतिउत्कृष्ट और 9 टाॅयलेट्स काे आदर्श कैटेगरी दी गई है। अब 200 अंक शहरवासियों के हाथ में हैं।

ओडीएफ प्लस प्लस की तैयारियां करने वाले नगर निगम के अधिशासी अभियंता (मुख्यालय) मनोज गोस्वामी ने बताया कि टीम ने 62.5 एमएलडी के दो सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी), 50 और 6 एमएलडी ट्रीटमेंट प्लांट का भी दौरा किया था। इन चारों एसटीपी को भी ओडीएफ प्लस प्लस का दर्जा दिया। गौरतलब है कि 26 दिसंबर को दिल्ली से आई टीम ने ओडीएफ प्लस प्लस की तैयारियां परखी थी। पिछले साल भी इसी श्रेणी में शहर को पूरे अंक मिले थे।

सही जवाब देने पर मिलेंगे 200 अंक

स्वच्छता सर्वेक्षण कुल 6500 अंकों को होगा, जिसमें से 1500 अंक फीडबैक के भी हैं। इसमें शहरवासियों से 7 सवाल पूछे जाएंगे। इसमें एक सवाल ओडीएफ प्लस प्लस का भी होगा। इस सवाल में पूछा जाएगा कि क्या जयपुर ओडीएफ प्लस प्लस है? इस सवाल का इसका सही जवाब हां में देते ही जयपुर को 200 अंक मिल जाएंगे। यह स्वच्छता सर्वेक्षण में जोड़े जाएंगे।

कच्ची बस्तियों में मिली बेहतर व्यवस्था

दिल्ली से आई टीम ने शहर की कच्ची बस्तियों में भी सार्वजनिक शौचालयों की व्यवस्था देखी। इस दौरान मजदूरनगर, अशोकपुरा, अमृतपुरी, सीतारामनगर के सार्वजनिक शौचालयों में पानी की समुचित व्यवस्था के साथ सफाई भी बेहतर मिली।

COMMENT