गलवान घाटी के वीरों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाने देंगे: एयरफोर्स चीफ भदौरिया

Views : 1522  |  3 minutes read
IAF-Chief-RKS-Bhadoria

भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया ने शनिवार को कहा कि वायु सेना लक्ष्य को पूरा करने के लिए दृढ़ संकल्पित है। साथ ही किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार और सही जगह तैनात है। उन्होंने यह बात हैदराबाद के डुंडीगल में वायु सेना अकादमी (एएफए) में कम्बाइंड ग्रैजुएशन परेड (सीजीपी) को संबोधित करते हुए कहीं। इस दौरान एयरफोर्स चीफ भदौरिया ने भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प में शहीद हुए कर्नल संतोष बाबू और अन्य जवानों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने भारतीय वायुसेना अकादमी में मौजूद लोगों से कहा कि कृपया कर्नल संतोष और उनके बहादुर लोगों को श्रद्धांजलि देने में शामिल हों, जिन्होंने गलवान घाटी में एलएसी का बचाव करते हुए अपना बलिदान दिया।

किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए वायुसेना तैयार

वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने कहा कि वायुसेना लक्ष्य को पूरा करने के लिए दृढ़ संकल्पित है और वह लद्दाख की गलवान घाटी में हमारे शूरवीरों के बलिदान को कभी व्यर्थ नहीं जाने देगी। उन्होंने कहा, ‘यह स्पष्ट होना चाहिए कि हम पूरी तरह तैयार हैं और किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए सही जगह तैनात हैं। मैं देश को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम लक्ष्य को पूरा करने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं और गलवान के अपने शूरवीरों का बलिदान कभी व्यर्थ नहीं जाने देंगे।’

पीएम मोदी ने ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ का किया शुभारंभ, श्रमिकों को मिलेगा रोजगार

एयरफोर्स चीफ भदौरिया ने आगे कहा कि चीनी बलों के साथ झड़प के दौरान हमारे सैनिकों की वीरता ने किसी भी कीमत पर अपने देश की संप्रभुता की रक्षा करने के संकल्प को दर्शाया है। उन्होंने कहा कि लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा यानी एलएसी पर कम समय के बावजूद भी हमने जिस तरह से कार्रवाई की, वह तो एक छोटा सा उदाहरण है। हम सीमा पर हर स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

COMMENT