सागर हत्याकांड के मुख्य आरोपी पहलवान सुशील कुमार को नौकरी से निकालेगा रेलवे

Views : 797  |  3 minutes read
Wrestler-Sushil-Kumar

ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट पहलवान सुशील कुमार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में जूनियर गोल्ड मेडलिस्ट रेसलर सागर राणा की हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गए सुशील कुमार को एक और बड़ा झटका लगा है। दरअसल, अब रेलवे उसको नौकरी से निलंबित करने जा रहा है। दिल्ली सरकार से प्रस्ताव मिलने के बाद रेलवे ने इसको लेकर अपनी तैयारी भी शुरू कर दी है। उत्तर रेलवे में सीनियर कमर्शियल मैनेजर के पद पर कार्यरत अंतरराष्ट्रीय पहलवान सुशील कुमार के निलंबन का आदेश रेलवे जल्द ही नियम-कायदों के साथ निकालेगा।

छत्रसाल स्टेडियम में ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी थे सुशील

सागर राणा हत्याकांड में बतौर आरोपी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद पहलवान सुशील कुमार को रेलवे की नौकरी से हटाया जा रहा है। बता दें कि दिल्ली सरकार में प्रतिनियुक्ति (Deputation) पर कार्यरत सुशील कुमार को छत्रसाल स्टेडियम में स्कूलों में खेलों को बढ़ावा देने के लिए ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी बनाया गया था। उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने कहा, ‘रविवार को रेलवे बोर्ड को दिल्ली सरकार से सुशील कुमार से सबंधित एक रिपोर्ट मिली है, जिसमें सुशील पर एफआईआर दर्ज होने का जिक्र है। उसे नौकरी से हटाया जाएगा।’

रेलवे अधिकारियों का कहना है कि हत्या आरोपी पहलवान सुशील कुमार को सस्पेंड करने का आधिकारिक निर्देश एक या दो दिन में जारी कर दिया जाएगा। दिल्ली सरकार ने भी सुशील की प्रतिनियुक्ति बढ़ाने की मांग को खारिज कर दिया था। इसके बाद सरकार ने उत्तर रेलवे को भी प्रतिनियुक्ति को खारिज करने आवेदन खारिज करके भेज दिया था। सुशील कुमार साल 2015 से रेलवे अधिकारी होने के साथ दिल्ली सरकार में प्रतिनियुक्ति पर कार्यरत था। उसका डेप्युटेशन का कार्यकाल वर्ष 2020 तक ही था, जिसे वह आगे बढ़ाना चाहता था।

क्या है रेसलर सागर राणा हत्याकांड मामला?

आपको जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में 4 मई की रात को दिल्ली के मॉडल टॉउन थाने के इलाके में अंतरराष्ट्रीय पहलवान सुशील कुमार और उसके साथियों ने एक फ्लैट से जूनियर पहलवान सागर राणा और उसके दोस्तों का अपहरण किया। इसके बाद उन्हें छत्रसाल स्टेडियम में ले जाकर उनकी हॉकी स्टिक और लाठी-डंडों से बड़ी बेरहमी के साथ पिटाई की थी। इसमें सागर बुरी तरह घायल हो गया था। उसे और उसके साथियों को दिल्ली पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन इलाज के दौरान जूनियर नेशनल चैंपियन रेसलर सागर राणा की मौत हो गई थी।

Read More: श्रीलंका के 24 क्रिकेटरों ने नए केंद्रीय अनुबंध के प्रस्ताव को ठुकराया

COMMENT