प्रिया दत्त को पिता से विरासत में मिली राजनीति, नामी फिल्मी परिवार में हुआ था जन्म

Views : 5531  |  4 minutes read
Priya-Dutt-Biography

समाज सेविका, पूर्व सांसद व कांग्रेस नेता प्रिया दत्त आज अपना 56वां जन्मदिन मना रही हैं। प्रिया एक फिल्मी परिवार से आती हैं, लेकिन उन्होंने अभिनय से अबतक के जीवन में दूरी बनाकर रखी है। उन्होंने राजनीति में अपना भाग्य आजमाया, हालांकि उन्हें राजनीति भी विरासत में ही मिली हैं। प्रिया दत्त दिवंगत केंद्रीय मंत्री और प्रसिद्ध फिल्म अभिनेता सुनील दत्त की और अभिनेत्री नरगिस दत्त की बेटी हैं। उनके बड़े भाई संजय दत्त भी बॉलीवुड के जाने माने अभिनेता हैं। इस ख़ास मौके पर जानते हैं प्रिया के जीवन के बारे में कुछ अनुसनी बातें…

Priya-Dutt

प्रिया दत्त का आरंभिक जीवन

राजनेत्री व समाज सेविका प्रिया दत्त का जन्म 28 अगस्त, 1966 को मुंबई में फिल्म अभिनेता सुनील दत्त और एक्ट्रेस नर्गिस के घर में हुआ था। वह अभिनेता संजय दत्त और नम्रता दत्त की बहन हैं। उनके पिता सुनील दत्त केंद्रीय मंत्री रहे थे और उनकी मां नरगिस भी राजनीति के साथ समाजसेवा से जुड़ी रहीं। प्रिया ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी करने के बाद मुंबई विश्वविद्यालय के सोफिया कॉलेज से समाजशास्त्र में स्नातक की डिग्री हासिल की।

बाद में प्रिया दत्त ने टेलीविजन प्रोडक्शन में सेंटर फॉर मीडिया आर्ट्स, न्यूयॉर्क सिटी, संयुक्त राज्य अमेरिका से पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा किया। हालांकि, इसके बाद उनकी रुचि राजनीति और समाजसेवा में अधिक रही है। शायद इस कारण से ही उन्होंने मीडिया के क्षेत्र में अपना आगे करियर नहीं बनाया।

Priya-Dutt-

अब तक का ऐसा रहा राजनीतिक सफर

पूर्व कांग्रेस सांसद प्रिया दत्त को राजनीति अपने पिता सुनील दत्त से विरासत में मिलीं। उन्होंने राजनीति में अपनी प्रतिभा से एक अलग पहचान बनाने की कोशिश की है। हालांकि, इसमें उन्हें अबतक कोई बड़ी सफलता नहीं मिली है। वह पहली बार साल 2005 में कांग्रेस पार्टी के टिकट पर उत्तर-पश्चिम मुंबई लोकसभा क्षेत्र से 14वीं लोकसभा के लिए सांसद चुनी गईं। प्रिया ने महिलाओं के अधिकारों के लिए कई बार आवाज उठाई है। फिर चाहे बात महिला आरक्षण की हो या फिर कोई ओर मुद्दा, इस मामले में वह आगे आकर अपनी बात रखती रही हैं।

वर्ष 2009 में 15वीं लोकसभा के लिए हुए चुनाव में उन्होंने जीत दर्ज कर उत्तर-मध्य मुंबई निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया था। हालांकि, वर्ष 2014 के आम चुनाव में प्रिया को भाजपा की उम्मीदवार पूनम महाजन ने लगभग 186,000 मतों के भारी अंतर से हराया था। साल 2019 के लोकसभा चुनाव में भी कांग्रेस ने प्रिया दत्त को मुंबई की उत्तर-मध्य संसदीय सीट से मैदान में उतारा था, लेकिन इस बार भी उन्हें पूनम महाजन ने बड़े अंतर से हराया। इस तरह अब तक के राजनीतिक करियर में उन्हें दो बार जीत और दो बार हार का सामना करना पड़ा है।

Priya-Dutt-With-Father-and-Husband

बिजनेसमैन ओवेन रॉनकॉन से किया प्यार और शादी

अगर प्रिया दत्त के निजी जीवन की बात करें तो उन्होंने बिजनेसमैन ओवेन रॉनकॉन से ने 27 नवंबर, 2003 को शादी की। इन दोनों के दो बेटे सुमैर और सिद्धार्थ रॉनकॉन हैं। प्रिया के पति ओवेन एक म्यूजिक प्रमोशन कंपनी ओरेंनजूस एंटरटेनमेंट में पार्टनर हैं। रॉनकॉन मुंबई के बांद्रा स्थित एक रोमन कैथोलिक परिवार से आते हैं।

बतौर राष्ट्रमंडल सांसद कार्यकारी फोरम सभापति चयनित होने वाले पहले एशियाई थे बलराम जाखड़

COMMENT