‘काशी महाकाल एक्सप्रेस’ को पीएम मोदी ने दिखाई हरी झंडी, जानिये ट्रेन की खास बातें

Views : 2304  |  3 minutes read

मोदी सरकार ने महाशिवरात्रि के अवसर पर शिव भक्तों के लिए अनोखा तोहफा दिया है। पीएम मोदी ने रविवार को देश के 3 ज्योतिर्लिंगों को जोड़ने वाली नई ट्रेन काशी-महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर विधिवत शुरूआत की है। आईआरसीटीसी की तरफ से संचालित इस ट्रेन की कई विशेषताएं हैं। जानें, इस बारे में-

तीन ज्योतिर्लिंगों को जोड़ेगी ट्रेन

काशी-महाकाल एक्सप्रेस नाम से संचालित यह खास ट्रेन शिव भक्तों को देश के प्रमुख 3 ज्योतिर्लिंग काशी विश्वनाथ,ओंकारेश्वर व महाकालेश्वर से जोड़ कर दर्शन करवाएगी। गौरतलब है कि भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में इन तीनों ज्योतिर्लिंग के दर्शन का विशेष महत्व माना है और शिव भक्त देश के कोने-कोने से यहां दर्शन के लिए विभिन्न माध्यमों से आते हैं।

पीएम ने दिखाई हरी झंडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वाराणसी कैंट स्टेशन पर वीडियो लिंक के माध्यम से काशी महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई है। इस मौके पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे।

आईआरसीटीसी करेगी ट्रेन संचालित

भारतीय रेलवे की उपक्रम आईआरसीटीसी इस ट्रेन का परिचालन की जिम्मेदारी संभाल रही है। यह तीसरी ऐसी निजी ट्रेन है जिसका परिचालन आईआरसीटीसी कर रही है। इससे पहले आईआरसीटीसी दिल्ली से लखनऊ व मुंबई से हैदराबाद रूट पर तेजस ट्रेनों की ​व्यवस्था संभाल रही हैं।

Read More: टाटा व अडानी सहित कई कंपनियों ने प्राइवेट ट्रेन चलाने के लिए दिखाई दिलचस्पी

भगवान शिव के लिए भी सीट है रिजर्व

इस ट्रेन के कोच बी 5 में 64 नंबर की सीट भगवान शिव के लिए आरक्षित की गई है​ जिस पर मंदिर बनाया गया है। रेलवे का विचार है कि इस सीट को हमेशा के लिए आरक्षित कर दिया जाए। ट्रेन का हर कोच एसी-3 श्रेणी का है और यात्रियों को प्रत्येक कोच में ऊं नम: शिवाय मंत्र की धुन बजती सुनाई देगी। ट्रेन का माहौल पूरी तरह धार्मिक होगा जिससे यात्री सफर के दौरान शिव की भक्ति में डूब सकें।

ट्रेन की यह हैं खास बातें-
  • काशी महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन की शुरूआत 20 फरवरी से होगी और इस ट्रेन के लिए टिकटों की बुकिंग आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर शुरू हो चुकी है।
  • ट्रेन को सप्ताह में तीन दिन चलाया जाएगा जिसमें दो दिन सुल्तानपुर-लखनऊ के रास्ते होकर व एक दिन इलाहाबाद के रास्ते संचालित किया जाएगा।
  • यह ट्रेन सप्ताह के हर मंगलवार व गुरूवार को दोपहर पौने तीन बजे वाराणसी से चलेगी व अगले दिन सुबह 9 बजकर 40 मिनट पर इंदौर पहुंचा देगी। दूसरी तरफ हर बुधवार व शुक्रवार को सुबह 10 बजकर 55 मिनट पर इंदौर से चलकर अगले दिन सुबह 6 बजे वाराणसी उतार देगी।
  • इस ट्रेन में सफर का आनंद लेने के लिए आपको जल्दी से जल्दी टिकट बुक कराना होगा क्यों कि ट्रेन में टिकट डायनिमिक रहेगा।
  • ट्रेन में शिव भक्तों को शाकाहारी खाना ही मिलेगा और 10 लाख रूपये का बीमा भी दिया जाएगा।

 

 

COMMENT