पाकिस्तानी बल्लेबाज इमाम-उल-हक ने कपिल देव का 36 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा

Views : 1927  |  0 minutes read
chaltapurza.com

सलामी बल्लेबाज इमाम-उल-हक के शानदार शतक के बावजूद पाकिस्तान मंगलवार को खेले गए इंग्लैंड के ख़िलाफ़ तीसरे एकदिवसीय मुकाबले में छह विकेट से हार गया। लेकिन उसके लिए खुशी की बात यह है कि ओपनर इमाम-उल-हक ने एक भारतीय बल्लेबाज का रिकॉर्ड धवस्त कर दिया है। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रहे इंजमाम-उल-हक के भतीजे इमाम ने इस मैच में 131 गेंदों पर 151 रनों की बेहतरीन पारी खेली। इस पारी में उन्होंने 16 चौके और एक ​छक्का जड़ा। लेकिन इसके बाद भी वे पाकिस्तान को जीत नहीं दिला सके। हालांकि इमाम भारतीय हरफनमौला 36 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ने में कामयाब रहे।

इमाम के शतक की बदौलत पाकिस्तान ने बनाए 358 रन

इमाम-उल-हक के 151 रनों की बदौलत पाकिस्तान ने मैच में 50 ओवर खेलते हुए 9 विकेट के नुकसान पर 358 रनों का विशाल स्कोर बनाया। लेकिन जॉनी बेयरस्टॉ के शतक 128 रनों की बदौलत इंग्लैंड 359 रनों का लक्ष्य 44.5 ओवर में चार विकेट गंवाकर ही हासिल कर लिया। 23 वर्षीय इमाम का शतक भले ही पाकिस्तान को जीत नहीं दिला सका लेकिन वे इंग्लैंड में एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 150 से अधिक का स्‍कोर बनाने वाले दुनिया के सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बन गए हैं। उन्‍होंने 23 वर्ष की उम्र में इंग्‍लैंड में 150 से अधिक रन का स्‍कोर बनाया है।

इमाम-उल-हक से पहले यह रिकॉर्ड टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान कपिल देव के नाम पर था, जिन्‍होंने इंग्‍लैंड में हुए वर्ष 1983 के वर्ल्‍डकप में जिम्‍बाब्‍वे के खिलाफ नाबाद 175 रन की विस्फोटक पारी खेली थी। उस समय कपिल देव की उम्र मात्र 24 वर्ष थी। इस वर्ल्‍डकप में कपिल देव ने उस समय की सबसे कमजोर टीम समझे जाने वाली इंडिया को चैंपियन बनाया था। इसके बाद कपिल को देश में बहुत प्यार और सम्मान मिला।

इमाम की बल्लेबाजी में आ रहा लगातार निख़ार

पाकिस्तान के लेफ्ट हैंडेड ओपनर इमाम-उल-हक ने अब तक 27 वनडे, 10 टेस्ट और एक टी-20 इंटरनेशनल मैच खेला है। इमाम एकदिवसीय इंटरनेशनल में अब तक छह शतक जमा चुके हैं। इंग्‍लैंड के खिलाफ बनाया गया 151 रन का स्कोर उनका अब तक का सर्वोच्‍च स्‍कोर है। टेस्‍ट क्रिकेट में इमाम के नाम तीन अर्धशतक दर्ज हो चुके हैं।

Read More: क्या इस बार बीजेपी शासित प्रदेश बन जाएगा बीजेडी का गढ़ ओडिशा?

मैच हारने के बाद इमाम ने कहा कि पाकिस्‍तान टीम ने 359 रनों का बड़ा टारगेट दिया था लेकिन, गेंदबाजों के कमजोर प्रदर्शन और खराब फील्डिंग के कारण टीम को हार का सामना करना पड़ा। गौरतलब है कि इमाम-उल-हक के प्रदर्शन में लगातार निख़ार आ रहा है। वे पाकिस्तान के लिए अपने चाचा इंजमाम की तरह लंबी रेस का घोड़ा बन सकते हैं।

COMMENT